झाबुआ। मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पोर्टल पर दर्ज शिकायतों का शत-प्रतिशत निराकरण करें। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही तथा बर्दाश्त नहीं की जावेगी। यह निर्देश कलेक्टर रोहित सिंह ने सोमवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिये। कलेक्टर सिंह ने मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पोर्टल पर विभिन्न स्तरों पर दर्ज शिकायतों की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियों से कहा है कि वे इन शिकायतों के निराकरण में सर्वोच्च प्राथमिकता दें। श्री सिंह ने इस बैठक में जन सुनवाई के लम्बित आवेदन पत्रों की विभागवार सघन समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि आगामी एक सप्ताह में लम्बित आवेदन पत्रों का शतप्रतिशत निराकरण करें। श्री सिंह ने विभिन्न विभागों के जिला अधिकारियों को उचित मूल्य दुकानों के निरीक्षण के कार्य की प्रगति की समीक्षा की और दुकानों के निरीक्षण न करने पर गहरा असंतोष व्यक्त किया। इन अधिकारियों को दुकानों का निरीक्षण न करने तथा कार्य में लापरवाही बरतनें पर शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। श्री सिंह ने जिला अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि उचित मूल्य दुकानदारों की समीक्षा बैठक आयोजित करें और आधार सिडिंग के कार्य की समीक्षा कर उसमें और अधिक प्रगति लावें। श्री सिंह ने कहा कि उचित मूल्य दुकानें समय पर खुलें और खाद्यान का वितरण होना चाहिये। इसमें किसी भी प्रकार की शिकायत नहीं मिले इस बात का विशेष ध्यान रखें। श्री सिंह ने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि वे जिले में उचित मूल्य की दुकानें बन्द पाई जाने पर दुकानदारों के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित करें। इसके लिये अपने अधीनस्थ अधिकारियों को निर्देशित करें।  
श्री सिंह ने नगर में सड़कों की खराब स्थिति होने पर नाराजगी जाहिर की और मुख्य नगरपालिका अधिकारी तथा संबंधित निर्माण एजेंसी को निर्देश दिये हैं कि वे नगर में तथा 10 किलोमीटर के क्षेत्र में खराब सड़कें हैं उन पर पैंच वर्क का कार्य तत्काल कराए ताकि आम जनता को आवागमन में किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पडे़। श्री सिंह ने सहायक संचालक उद्यानिकी को कार्य में लापरवाही बरतनें पर शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिये किये गए कार्यों की प्रगति की विस्तार से समीक्षा की और कार्य संतोषप्रत नहीं पाए जाने पर रामा, मेघनगर तथा थंादला के नायब तहसीलदार को शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। इसी प्रकार अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला, उप संचालक पशु चिकित्सा, बीएमओ थांदला, बीएमओ राणापुर को भी कार्य संतोषजनक नहीं पाए जाने पर शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। श्री सिंह ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला को भी कार्य संतोषप्रद न पाए जाने पर पत्र जारी करने के निर्देश दिये। श्री सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे सौंपे गये कार्य में शत-प्रतिशत सुधार करें। श्री सिंह ने अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व को निर्देश दिये हैं कि वे अनुभाग स्तर पर योजनाओं की  प्रगति की समीक्षा करें। साथ ही कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के कार्य की भी समीक्षा करें।
कलेक्टर श्री सिंह ने उच्च न्यायालय में प्रचलित प्रकरणों की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे इन प्रकरणों में शासन का पक्ष रखें। श्री सिंह ने वन अधिकार अधिनियम के अंतर्गत किये गए कार्य की प्रगति की जनपद पंचायतवार सघन समीक्षा की और इस कार्य में और अधिक प्रगति लाने के निर्देश दिये। श्री सिंह ने सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग को 2 सितम्बर को वन अधिकार अधिनियम की प्रगति की समीक्षा बैठक रखने के निर्देश दिये।
इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री जे.एस. बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, डिप्टी कलेक्टर श्री एल.एन.गर्ग, सुश्री ज्योति परते, सुश्री प्रीति संघवी सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

Jhabua News-समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को दिये निर्देश

और पड़े
शेयर