Articles by "गायत्री शक्तिपीठ"

#Measles-Rubella 15 अगस्त 26 january 26 जनवरी abvp Administrative Admission-Alert b4 cinema balaji dhaam bhagoria bhagoria festival jhabua bjp cbse result cinema hall jhabua city crime cultural education election Epaper events Exclusive Famous Place Gallery gopal mandir jhabua Health and Medical jhabua jhabua crime Jhabua History Jobs Kadaknath matangi Meghnagar MISSING- ALERT Movie Review MPEB MPPSC National Body Building Championship India New Year NSUI petlawad politics post office ram sharnam jhabua Ranapur religious religious place Road Accident rotary club sd academy social sports thandla tourist place Video Visiting Place Women Jhabua अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अखिल भारतीय साहित्य परिषद अंगूरी बनी अंगारा अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस अपराध अरोडा समाज अल्प विराम कार्यक्रम अवैध रेत अवैध शराब अंहिसा दिवस आई.टी.आई आईसेक्ट आंगनवाड़ी आचार संहिता आजाद जयंती आदित्य पंचोली आदिवासी गुड़िया आनंद उत्सव आपकी सरकार आपके द्वार आबकारी विभाग आयुष्मान भारत योजना आरटीओं आर्ट आॅफ लिविंग शिविर आर्मी भर्ती आलेख आवंला नवमी आंवला नवमी आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक इनरव्हील क्लब ईद उत्कृष्ट सड़क उपचुनाव उमापति महादेव उर्स ऋषभदेव बावन जिनालय एकात्म यात्रा एजुकेट गर्ल्स एनएसयूआई एमपी पीएससी एसडीओपी सोनू डावर कड़कनाथ मुर्गा कन्या भोज कम्प्यूटर ऑपरेटर महासंघ कलाल समाज कलावती भूरिया कलेक्टर कलेक्टर कार्यालय कल्लाजी महाराज कवि सम्मेलन कांग्रेस कांतिलाल भूरिया कार्तिक पूर्णिमा कालिका माता मंदिर कालीदेवी कावड़ यात्रा काव्य संध्या किन्नर सम्मेलन कृषि कृषि महोत्सव कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ केरोसीन कैथोलिक डायसिस झाबुआ कोट्पा एक्ट कोरोना वायरस क्रिकेट टूर्नामेंट क्रिसमम क्षत्रिय महासभा खबरे अब तक खाद्य एवं औषधि विभाग खेडापति हनुमान मंदिर खेल गडवाड़ा गणगौर पर्व गणतंत्र दिवस गणेशोत्सव गर्मी गल पर्व गांधी जयंती गायत्री शक्तिपीठ गुड़िया कला झाबुआ गुड़ी पड़वा गुरू पूर्णिमा गेल झाबुआ गोपाल पुरस्कार गोपाल मंदिर झाबुआ गोपाष्टमी गोपेश्वर महादेव गोवर्धननाथ मंदिर गौशाला ग्रामीण बैंक घटनाए चक्काजाम चर्च चुनाव जन आशीर्वाद यात्रा जनपद जनसुनवाई जन्माष्टमी जय आदिवासी युवा संगठन जय बजरंग व्यायाम शाला जयस जवाहर नवोदय विद्यालय जिला चिकित्सालय जिला जेल जिला न्यायालय जिला विकलांग केन्द्र झाबुआ जिला सहकारी बैंक जीवन ज्योति हॉस्पिटल जैन मुनि जैन सोश्यल गुुप ज्योतिष परामर्श शिविर झकनावदा झाबुआ झाबुआ इतिहास झाबुआ का राजा झाबुआ पर्व झाबुआ पुलिस झाबुआ रियासत झाबूआ झूलेलाल जयंती टंट्या भील डाकघर डीआरपी लाईन तुलसी विवाह तेली समाज थांदला दशहरा दस्तक अभियान दिल से कार्यक्रम दीनदयाल उपाध्याय पुण्यतिथि दीपावली देवझिरी देवझिरी जैन तीर्थ धरना प्रदर्शन धारा 144 धार्मिक धार्मिक स्थल नक्षत्र वाटिका नगर परिषद नगरपालिका परिषद झाबुआ नरेंद्र मोदी नवरात्री नवरात्री चल समारोह नागरिकता संशोधन नि:शुल्क स्वास्थ्य मेगा शिविर निर्मला भूरिया निर्वाचन आयोग नेहरू युवा केन्द्र पटवारी संघ पथ संचलन परिवहन विभाग परीक्षा परीणाम पर्यटन स्थल पल्स पोलियो अभियान पाक्सो एक्ट पारा पावर लिफ्टिंग पिटोल पीएचई विभाग पुण्यतिथि पेटलावद पेंशनर एसोसिएशन पैलेस गार्डन पोलीटेक्निक काॅलेज प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय प्रतिभा सम्मान सम्मारोह प्रतियोगी परीक्षा प्रधानमंत्री आवास योजना प्रशासनिक फिट इण्डिया फुटतालाब फेंसी ड्रेस फ्लैग मार्च बजरंग दल बस स्टैंड बहादुर सागर तालाब बामनिया बारिश बाल कल्याण समिति बालिका सशक्तिकरण अभियान बिरसा मुंडा बेटी बचाओं अभियान बोहरा समाज ब्राह्राण समाज ब्लू व्हेल गेम भगोरिया पर्व भगोरिया मेला भगौरिया पर्व भजन संध्या भर्ती भागवत कथा भाजपा भारत निर्वाचन आयोग भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान भारतीय जीवन बीमा निगम भारतीय जैन संगठना भारतीय थल सेना भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा भावांतर योजना मध्यप्रदेश टूरिज्म अवार्ड मध्यप्रदेश पर्यटन विभाग मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग मनकामेश्वर महादेव मनरेगा मल्टीप्लेक्स सिनेमा महात्मा गांधी महाशिवरात्रि महिला आयोग महिला एवं बाल विकास विभाग माछलिया घाट मिशन इन्द्रधनुष मीजल्स रूबेला मुख्यमंत्री उत्कृष्टता पुरस्कार मुख्यमंत्री कन्यादान योजना मुख्यमंत्री कप मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चोहान मुस्लिम समाज मुहर्रम मूवी रिव्यु मेघनगर मेरे दीनदयाल सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता मैराथन दौड़ मॉक ड्रील मोड़ ब्राह्मण समाज मोदी मोहल्ला मोहनखेड़ा यातायात युवा उत्सव युवा दिवस युवा शक्ति संगठन यूनीसेफ योग योग शिविर रक्तदान रंगपुरा रंगोली रतलाम रंभापुर राजगढ़ राजगढ नाका राजनीति राजनेतिक राजपुत समाज राजवाडा चौक राज्यपाल राणापुर राम शरणम् झाबुआ रामशंकर चंचल रामा रायपुरिया राष्ट्रीय एकता दिवस राष्ट्रीय खेल दिवस राष्ट्रीय पोषण मिशन राष्ट्रीय बालरंग राष्ट्रीय बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशीप राष्ट्रीय मानवाधिकार राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ रेल्वे स्टेशन रैली रोग निदान रोजगार मेला रोटरी क्लब लक्ष्मीनगर विकास समिति लाडली शिक्षा पर्व लाॅकडाउन लॉक डाउन लोक सेवा केन्द्र लोकरंग लोकरंग शिविर वनवासी कल्याण परिषद वरदान नर्सिंग होम वर्ल्ड रिकॉर्ड वाटसएप विजय दिवस विद्युत प्रदाय विधायक विधायक शांतिलाल बिलवाल विश्व आदिवासी दिवस विश्व उपभोक्ता संरक्षण दिवस विश्व विकलांग दिवस विश्व हिन्दू परिषद वेटलिफ्टिंग वेलेंटाईन डे वैश्य महासम्मेलन व्यापारी प्रीमियर लीग शरद पूर्णिमा शहीद सैनिक शारदा विद्या मंदिर शासकीय पाॅलिटेक्निक महाविद्यालय शासकीय महाविद्यालय झाबुआ शिक्षा शिवगंगा शिविर शौर्य दिवस श्रद्धांजलि सभा श्रावण सोमवार श्री गौड़ी पार्श्वनाथ जैन मंदिर सकल व्यापारी संघ संगीत सत्यसाई सेवा समिति सदभावना दौड संपादकीय सर्वब्राह्मण समाज साई मंदिर साज रंग झाबुआ सामाजिक सामूहिक सूर्य नमस्कार सारंगी सांसद सांस्कृतिक साहित्य सिंधी समाज सीपीसीटी परीक्षा सुर श्री सुशासन दिवस स्थापना दिवस स्वच्छ भारत मिशन स्वच्छता सर्वेक्षण स्वतंत्रता दिवस हज हजरत दीदार शाह वली हनुमान जयंती हरितालिका तीज हरियाली अमावस्या हस्तशिल्प हाथीपावा हाथीपावा महोत्सव हिन्दू नववर्ष होमगार्ड होर्डिग्स होली झाबुआ
Showing posts with label गायत्री शक्तिपीठ. Show all posts

 झाबुआ। विश्वव्यापी कोरोना संक्रमण की महामारी से मानवमात्र की रक्षा के लिए गायत्री परिवार घर-घर यज्ञ-हवन के माध्यम से कारोना संक्रमण को नष्ट करने के लिए एक दिवसीय महाअभियान चलाएगा। बुद्ध पूर्णिमा के दिन नगर के हजारों परिवारों मे एक साथ एक ही समय मे यज्ञ होंगे। उसी दिन शाम को दीप यज्ञ किए जाएंगे। अभियान की तैयारियां एवं पंजियन (रजिस्ट्रेशन) किया जा रहा है।

     अखिल विश्व गायत्री परिवार शान्तिकुॅज हरिद्वार के निर्देशन मे 26 मई बुधवार बुद्ध पूर्णिमा को प्रातः 8 से 11 बजे के मध्य यज्ञ किया जाएगा। यज्ञ मे गायत्री महामंत्र एवं महामृत्युंजय मंत्र की आहुतियां दी जाएगी। उसी दिन शाम को साढे छः से साढे सात बजे के मध्य मंत्रोच्चार के साथ दीप यज्ञ होंगे। जिससे वातावरण शुद्ध एवं पवित्र होगा।  गायत्री शक्तिपीठ बसंत काॅलोनी के प्रमुख ट्रस्टी एसएस पुरोहित ने बताया कि कारोना की गाईड लाईन का पालन करते हुए कार्यकताओं द्वारा नगर के वार्ड, मोहल्लों, एवं काॅलोनियों मे परिवार के सदस्यों से संपर्क कर पंजियन किया जा रहा है। जिन परिवारों मे यज्ञ होना है, उनके मोबाईल के वाटसअप नंबर पर एक विडीयों क्लिीपीग पोस्ट कि जाएगी। जिसमंे लगभग 20 मीनिट का यज्ञ संचालन है। इस विडीयों के माध्यम से परिवार के सदस्य घर मे यज्ञ संपन्न कर सकेंगे। यज्ञ मे उपयोग की जाने वाली सामग्री की सूचि भी मोबाईल पर दी जाएगी एवं हवन सामग्री व संविदा (हवन की लकडीयां) गायत्री शक्तिपीठ बसंत काॅलोनी से प्राप्त करनी होगी।

Jhabua News- कोरोना के समुल नाश के लिए गायत्री परिवार का महाअभियान, गृहे-गृहे गायत्री यज्ञ


         जिन परिवारों मे यज्ञ कुंड नहीं है वे इसे कंडे , सुखी लकडीयों, धुप पात्र एवं चार इंट से हवन वैदी बनाकर भी यज्ञ संपन्न कर सकेंगे। इस यज्ञ की यही विशेषता है कि सरल विधी द्वारा कम समय मे परिवार के सदस्य यज्ञ का लाभ ले सकेंगें। इच्छुक परिवार यज्ञ पंजीयन के लिए 9425188004,9425925541,7999743824, 9424519681 पर संपर्क कर सकते है।  श्री पुरोहित ने बताया कि कोरोना की गाईड लाईन का पालन करते हुए ज्यादा से ज्यादा मोबाईल पर संपर्क कर पंजियन किया जा रहा है। नगर के सामाजिक , धार्मिक, एवं स्वयंसेवी संगठन के पदाधिकारियों को प्रेरित कर उनसे संपर्क कर उन्हें भी इस अभियान से जोडा गया है। अभियान को सफल बनाने मे कार्यकर्ता विनोद जायसवाल, श्याम त्रिवेदी, दिनेश दांगी, प्रदीप पंडया, विनोद गुप्ता , दीपक त्रिवेदी, प्रशांत मलिक द्वारा सतत संपर्क एवं तैयारियां की जा रही है। सामाजिक कार्यकर्ता भारती सोनी, शिक्षाविद डाॅ, केके त्रिवेदी, हनुमान टेकरी सेवा समिति के राकेश झरबडे, अंबरीश भावसार द्वारा महाअभियान मे कई परिवारों के पंजियन कर सहयोग दिया जा रहा है। साथ ही आमजन से अपील की है कि कोरोना महामारी के समुल नाश के लिए यज्ञ मे सहभागी बनें। 

और पड़े
शेयर

झाबुआ। शहर के काॅलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर गुरू पूर्णिमा पर्व मनाया गया। इस अवसर पर मंदिर में  विभिन्न धार्मिक आयोजन संपन्न हुए। प्रातःकाल जाप, साधना, यज्ञ एवं शाम को दीपयज्ञ तथा गुरूपूजन का आयोजन हुआ। गुरूपूर्णिमा के उपलक्ष में एक भक्त की ओर से गायत्री मंदिर में गौ-माता का बछड़ा भी भेंट किया गया। जानकारी देते हुए गायत्री परिवार के जिला समनव्यक पं. घनष्याम बैरागी एवं नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि गुरू पूर्णिमा पर प्रातःकाल 5.30 बजे वेद माता गायत्री एवं समीप स्फटिक महादेवजी का जल से अभिषेक किया गया। पश्चात् आरती हुई। सुबह 6 से शाम 6 बजे तक मंदिर परिसर में गायत्री महामंत्र एवं शिव मृत्युंजय महामंत्र के जाप और साधना का भी दौर चला। सुबह 8 बजे से मंदिर परिसर में एक कुंडीय यज्ञ हुआ। जिसमें यजमान के रूप में ठा. योगेन्द्रसिंह राठौर एवं उनकी धर्मपत्नि दुर्गाकंवर राठौर के साथ उनके परिवारजन तथा गायत्री परिजन शामिल हुए। विधि-विधान एवं मंत्रोच्चार के साथ गायत्री यज्ञ संपन्न हुआ। यज्ञ पं. घनष्याम बैरागी ने संपन्न करवाया। पूर्णाहूति पर सभी को प्रसादी वितरण किया गया।
दीप यज्ञ एवं गुरूपूजन हुई
शाम 7 बजे दीप यज्ञ किया गया। पश्चात् गुरूपूजन हुई। उक्त कार्यक्रम श्रीमती नलिनी बैरागी ने संपन्न करवाएं। सभी कार्यक्रम शासन-प्रशासन के नियमानुसार फेस मास्क और सोशल डिस्टेनिसंग के साथ संपन्न हुए। दोपहर में गुरूपूर्णिमा के उपलक्ष में श्रीमती मनोरमादेवी चैहान की ओर से मंदिर में गौ-माता का बछड़ा भेंट किया गया। जिसकी पूजन कर आरती की गई। आयोजन को सफल बनाने में सराहनीय सहयोग गायत्री परिवार से जुड़े प्रकाश डावर, राकेश भानपुरिया, संतोष प्रधान, रीना शर्मा, किरण निगम आदि का रहा।     
गुरू दीक्षा एवं हवन का हुआ आयोजन
इसी प्रकार गुरूपूर्णिमा पर्व पर पिटोल स्थित नवचेतना केंद्र पर भी कार्यक्रम का आयोजन हुआ। यहां दोपहर 2 से शाम 4 बजे तक एक कुंडीय यज्ञ हुआ। यज्ञ श्रीमती नलिनी बैरागी, किरण निगम, कृष्णा शेखावत ने संपन्न करवाया। इस दौरान 25-30 ग्रामीणजनों ने नशा मुक्ति का संकल्प लेते हुए गुरूपूर्णिमा के उपलक्ष में गुरू दीक्षा ग्रहण की। सभी को दीक्षा पं. घनष्याम बैरागी ने दिलवाई। इस अवसर पर नव-चेतना केंद्र पिटोल से जुड़े ईष्वरभाई, बलवंत नायक, यशवंत आदि सहित आसपास के गांवों के ग्रामीणजन उपस्थित थे।

Jhabua News- गुरू पूर्णिमा पर गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर जाप, साधना, यज्ञ एवं गुरूपूजन का हुआ आयोजन,

गुरू पूर्णिमा पर गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर जाप, साधना, यज्ञ एवं गुरूपूजन का हुआ आयोजन,

और पड़े
शेयर

53 महिलाओं का गर्भोत्सव (पुंसवन) संस्कार कर उन्हें गुरूदेवजी का साहित्य भेंट किया गया

गायत्री शक्तिपीठ कॉलेज मार्ग पर हुए विभिन्न धार्मिक आयोजन

झाबुआ। अखिल विष्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में गायत्री जयंती एवं गंगा दषहरा पर स्थानीय कॉलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर 12 जून, बुधवार को विभिन्न धार्मिक आयोजन संपन्न हुए। जिसमें मुख्य रूप से सुबह 9 से लेकर दोपहर 12 बजे तक महिलाओं का गभोत्सव (पुंसवन) संस्कार संपन्न हुआ। इस दौरान करीब 53 महिलाओं का यह संस्कार कर उन्हें गुरूदेव पं. श्री राम शर्मा आचार्यजी का साहित्य प्रदान किया गया। 
यह जानकारी देते हुए गायत्री शक्तिपीठ कॉलेज मार्ग से जुड़ी नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के तहत अलसुबह 5 बजे मंदिर में विराजित वेद माता गायत्रीजी का महाभिषेक पं. घनष्याम बैरागी एवं श्रीमती नलिनी बैरागी ने किया। बाद 5.30 बजे मंगला आरती हुई। 6 बजे 8 बजे गायत्री परिवार से जुड़े महिला-पुरूषों के साथ साधकगणों द्वारा मंदिर परिसर में गायत्री महामंत्र के जाप किए गए। इस दौरान 30 से अधिक भक्तों ने 1 लाख 25 हजार से अधिक गायत्री महांमत्र का जाप किया।
गुरूदेवजी का साहित्य भेंट किया गया
सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक मंदिर परिसर में महिलाओं के गभोत्सव (पुंसवन) संस्कार हुए। यह संस्कार विधि-विधानपूर्वक गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी ने संपन्न करवाएं। उक्त कार्यक्रम मं शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं ने भी सहभागिता की। 53 महिलाओं का पुंसवन संस्कार कर उन्हें गुरूदेव पं. श्री राम शर्मा आचार्यजी का साहित्य भेट किया गया। महिलाओं का पंजीयन का कार्य गायत्री परिवार की हरिप्रिया निगम ने किया। बाद मंदिर परिसर में सभी के लिए भोजन प्रसादी का भी आयोजन रखा गया।
जन्म लेने वाला बच्चा तेजस्वी और ओजस्वी बनता है
इस अवसर पर गर्भोत्सव संस्कार करवाने वाली महिलाओं को जानकारी देते हुए गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी ने बताया कि गभोत्सव (पुंसवन) सरकार सभी संस्कारों में से सबसे महत्वपूर्ण संस्कार माना गया है। यह संस्कार करवाने पर महिला के गर्भ से जन्म वाली संतान श्रेष्ठ बनती है। साथ ही जन्म लेने वाला बच्चा काफी ओजस्वी, तेजस्वी एवं वर्चस्वी पैदा होता है। बच्चा निरोगी होकर धर्ममयी होता है। प्रत्येक महिला चाहे वह किसी जाति, धर्म विशेष की हो, यह संस्कार करवाना चाहिए। 
इनका रहा सराहनीय सहयोग
उक्त आयोजन को सफल बनाने में सराहनीय सहयोग गायत्री परिवार से पुरूषजनों में प्रकाश डावर, शांतिलाल लष्करी, केके वर्मा, भोजन व्यवस्था में विशेष सहयोग सुरेश निगम के साथ महिलाओं में सुलोचना चौहान, नम्रता शेखावत, किरण निगम, मनोरमा डावर, रीना शर्मा, गायत्री सावलानी, मीना पटेल, पार्वती लष्करी, दिव्या सावलानी आदि का रहा।

पुसंवन संस्कार करवाने वाली समस्त महिलाओं का अंत में पुष्पमाला पहनाकर गायत्री परिवार की ओर से भावभरा स्वागत किया गया
शहरी के साथ ग्रामीण महिलाओं ने भी गर्भोत्सव संस्कार करवाया


गर्भात्सव संस्कार विधि-विधानपूर्वक हुआ

और पड़े
शेयर

दीप यज्ञ एवं महाआरती का होगा आयोजन

झाबुआ। मां गंगा दशमी और वेद माता गायत्रीजी की जयंती (अवतरण) दिवस पर आज 12 जून, बुधवार को स्थानीय कॉलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम संपन्न होंगे। इस दिन मुख्य रूप से शाम को मंदिर में दीप यज्ञ एवं महाआरती का आयोजन रखा गया है।  
यह जानकारी देते हुए गायत्री शक्तिपीठ से जुड़ी नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि मंदिर में बुधवार को अलसुबह 4.30 बजे गायत्री माताजी का महाभिषेक पश्चात् 7.30 बजे मंगला आरती होगी। 6 से 8 बजे के बीच साधकों द्वारा मंदिर परिसर में बैठकर गायत्री महामंत्र का जाप (उच्चारण) भी किया जाएगा। बाद 9 से 12 बजे के बीच गर्भवती महिलाओं के गभोत्सव संस्कार गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी द्वारा संपन्न करवाएं जाएंगे। शाम 7 बजे दीप यज्ञ होगा एवं बाद रात 8 बजे महाआरती का आयोजन रखा गया है। तत्पष्चात् प्रसादी वितरण होगा।
वेद माता गायत्रीजी की महिमा
नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने मां गायत्रीजी की महिमा बताई कि गायत्री माता वेदो की माता है। उनसे संपूर्ण वेद आदि ज्ञान प्रकट हुआ है। उन्हें देव माता भी कहा गया है, यहीं माता समस्त देवताओं की उत्पत्ति करती है। उन्हें जगत माता भी कहा गया है, यहीं समस्त विष्व की जननी और पालन करने वाली है। गायत्री मंत्रजी का देवता सविता (सूर्य) है। गायत्री साधक सविता के तेज का ध्यान करने से भी महातेजस्वी बन जाता है। गायत्री मंत्रजी के ऋषि विष्वामित्रजी है। स्वयं भगवान श्री रामजी एवं श्री कृष्णजी भी गायत्री मंत्र का नित्य जाप करते थे। ऐसी मां गायत्रीजी की साधकों द्वारा आराधना-भक्ति-पूजा-अर्चना करने से समस्त संकटों एवं विपत्तियो का नाश होता है एवं घर-परिवार में सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है।
मप्र के 51 हजार स्थानों पर एक साथ एक समय पर होंगे दीपयज्ञ, झाबुआ जिले में 1 हजार स्थानों पर होगा आयोजन
अखिल विष्व गायत्री परिवार, शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में देश से आतंकवाद-भ्रष्टाचार जैसी समस्याएं खत्म हो, विष्व शांति बनी रहे और भारत विष्व गुरू बनने की ओर अग्रसर हो, इस हेतु गायत्री परिवार द्वारा आज बुधवार को गायत्री जयंती एवं गंगा दशहरा पर मप्र में 51 हजार स्थानों पर दीप यज्ञ का आयोजन रखा गया है। इसी क्रम में झाबुआ जिले में करीब 1 हजार स्थानों पर यह आयोजन होगा। जिसकी तैयारी गायत्री परिवार गायत्री शक्तिपीठ कॉलेज मार्ग झाबुआ ने पूर्ण कर ली है।
गायत्री परिवार नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि गायत्री परिवार की ओर से आध्यात्मिक पहल के रूप में यह आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत प्रदेश के गांव-कस्बों एवं शहरों में यह आयोजन होगा। इस आयोजन की खासियत यह रहेगी कि एक साथ एक समय पर ही पूरे प्रदेश में दीप यज्ञ किया जाएगा। इसी के तहत प्रदेश के हर जिले को गायत्री जयंती पर एक हजार स्थानों पर दीप यज्ञ का आयोजन करने जिम्मेदारी सौंपी गई है। गायत्री शक्तिपीठ कॉलेज मार्ग के तत्वावधान में संपूर्ण जिले में जिसमें रानापुर, मांंडलीनाथू, समोई, पारा, कालीदेवी, मेघनगर, कल्याणपुरा, थांदला, नौगांवा, खवासा, पेटलावद बामनिया, सारंगी, झकनावदा आदि स्थानों पर शक्तिपीठ से जुड़े गायत्री परिजनों द्वारा दीप यज्ञ संपन्न करवाएं जाएंगे। 
दीप यज्ञ बाद होगी महाआरती
दीप यज्ञ का समय देर शाम 7.30 से 8.30 बजे के बीच होगा। बाद महाआरती कर प्रसादी वितरण होगा। श्रीमती नलिनी बैरागी ने झाबुआ जिले के समस्त साधकगणों से इस दिन अपने घरों पर भी शाम 7 से 8 के बीज पांच-पांच दीपक प्रज्जवलित कर गायत्री महामंत्र का जाप करने हेतु आग्रह किया है। 

और पड़े
शेयर

जिले में 1 हजार से अधिक एवं झाबुआ में 500 घरों में संपन्न हुआ दीप यज्ञ

झाबुआ। शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में पूरे प्रदेश  में 22 जून को गायत्री जयंती एवं गंगा दशहरा के उपलक्ष में दीप यज्ञ का आयोजन हुआ। इसी क्रम में झाबुआ जिले में 1 हजार से अधिक एवं झाबुआ शहर में 500 से अधिक घरों में दीप यज्ञ कार्यक्रम संपन्न हुआ। स्थानीय कॉलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर उक्त कार्यक्रम शाम 7 से 8 बजे के बीच हुआ। पश्चात् महाआरती एवं महाप्रसादी का भी आयोजन किया गया।  
       यह जानकारी देते हुए गायत्री परिवार के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी ने बताया कि गंगा जयंती एवं गंगा दषहरा के उपलक्ष में गायत्री शक्तिपीठ कॉलेज मार्ग पर जहां सुबह गर्भात्सव संस्कार (पुंसवन संस्कार) एवं पचंकुंडीय यज्ञ संपन्न हुआ। जिसमें करीब 90 महिलाएं शामिल हुई। पश्चात् शाम 7 से 8 बजे के बीच मंदिर में दीप यज्ञ रखा गया। सर्वप्रथम पं. घनष्याम बैरागी द्वारा उपस्थित सभी गायत्री परिजनों एवं युवाओं को गायत्री जयंती एवं गंगा दशहरा के महत्व के बारे में बताया गया। साथ ही बताया कि आज वेद माता मां गायत्रीजी का आराधना करने का विषेष दिन है। इसके साथ ही आज गुरूदेव आचार्य पं. श्री राम शर्मा आचार्यजी का महाप्रयाण दिवस भी है, इसलिए आज पूजा-अर्चना करने से काफी पुण्य लाभ प्राप्त होगा एवं अपार सुख-समृद्धि की प्राप्ति होगी।
दीप प्रज्जवलित किए गए
इसके पश्चात् समस्त गायत्री परिजनों, जिसमें महिला-पुरूषों के साथ युवाओं द्वारा मंदिर परिसर में दीप प्रज्जवलित किए गए। महिलाओं द्वारा मां गायत्री, पं. श्री राम आचार्यजी एवं मां भगवतीदेवी शर्मा के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्जवलन किया गया वहीं पुरूषों ने समीप स्फटिक शिव मंदिर में भगवान शिवजी के सम्मुख दीप प्रज्जवलित कर गायत्री मंत्रोच्चार के साथ शिव मंत्रोच्चार कर पूजन की। दीप यज्ञ नारी शक्ति जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी द्वारा संपन्न करवाया गया। इसके साथ ही इसी दौरान निर्धारित किए गए समय पर झाबुआ में 500 घरों एवं पूरे जिले में 1 हजार घरों में भी गायत्री माताजी, के सम्मुख दीप प्रज्जवलन के साथ घरों के द्वारां-आंगनों में भी दीप प्रज्जवलित कर पूजन कर गायत्री मंत्रो का उच्चारण किया गया। जिससे पूरे जिले में धर्म के प्रति अपनी अपार आस्था एवं श्रद्धा का लोगों ने संदेश दिया। 
महाआरती एवं महाप्रसादी का हुआ आयोजन
रात्रि 8 बजे गायत्री शक्तिपीठ पर महाआरती हुई। पहले वेद माता गायत्रीजी की आरती की गई। पश्चात् भगवान शिवजी की आरती कर संयुक्त रूप से सभी द्वारा मंत्रोच्चार किया गया। इसके पश्चात् महाप्रसादी के रूप में 50 किलो केसरिया भात श्रद्धालुओं को वितरित की गई। संपूर्ण आयोजन को सफल बनाने में गायत्री परिवार की महिला श्रीमती मनोरमा डावर, किरण निगम, मोना भट्ट ‘स्मृति’, कृष्णा शेखावत, कृष्णा शर्मा, पार्वती लष्करे, श्रीमती सोनी, प्रेमलता शुक्ला, लीना नागर के साथ पुरूषों में प्रकाश डावर, शातिलाल लष्करे, सुरेश निगम, राजेश नागर, ऋतुराजसिंह राठौर, देवेन्द्र पटेल आदि उपस्थित थे। 

और पड़े
शेयर

झाबुआ जिले में 1 हजार स्थानों पर दीप यज्ञ होगा 

भारत को विश्व गुरू बनाने के लिए आध्यात्मिक पहल 

झाबुआ। शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में देश से आतंकवाद, भ्रष्टाचार जैसी समस्याएं खत्म करने के लिए, विश्व शांति बनाए रखने के लिए तथा भारत विश्व गुरू बनने की ओर अग्रसर हो, इस हेतु गायत्री परिवार द्वारा विशाल आध्यात्मिक पहल की जा रहीं है। जिसमें 22 जून गायत्री जयंती एवं गंगा दशहरा पर प्रदेश के 51 जिलों में 51 हजार स्थानों पर एक साथ एक समय पर दीप यज्ञ होगा। इसी के तहत झाबुआ जिले में 1 हजार घरों में दीप यज्ञ करवाया जाना गायत्री परिवार द्वारा तय किया गया है।  
विश्व शांति हेतु 22 जून को प्रदेश के 51 हजार स्थानों पर एक साथ होगा दीपयज्ञ
        यह जानकारी देते हुए गायत्री परिवार झाबुआ के जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी एवं नारी शक्ति जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि आज देश से आंतकवाद एवं भ्रष्टाचार को खत्म करने की नितांत आवष्यकता है। पूरे विश्व में शांति बनी रहे, यह गायत्री परिवार का उद्देष्य के साथ संदेश भी है। साथ ही भारत देश को विश्व गुरू बनाने की भी पहल करने के लिए शांतिकुंज हरिद्वार के निर्देश पर पूरे मप्र में 22 जून को गायंत्री जयंती एवं गंगा दशहरा पर यह ऐतिहासिक आयोजन करने का निर्णय गायत्री परिवार द्वारा लिया गया है। इसके तहत प्रदेश के गांव, शहर और कस्बों में दीप यज्ञ कर धर्म के प्रति जनजागृति भी लाई जाएगी। आज धर्म से जुड़ने की लोगों को सख्त आवष्यकता है।
एक साथ एक समय पर होगा दीप यज्ञ
पं. घनष्याम बैरागी एवं श्रीमती नलिनी बैरागी ने बताया कि इस आयोजन की सबसे बड़ी खासियत यह है कि दीप यज्ञ एक साथ एक समय पर पूरे प्रदेश में आयोजित किया जाएगा। निर्धारित किए गए कार्यक्रमानुसार 22 जून को शाम 7 से 7.15 बजे तक पूजन, 7.15 से 7.30 बजे तक सामूहिक गायत्री मंत्र जाप एवं रात्रि 7.30 से 8 बजे दीप यज्ञ होगा। इसी क्रम में झाबुआ जिले में जिसमें विशेषकर जिला मुख्यालय झाबुआ सहित जिले के मेघनगर, थांदला, पेटलावद, नौगांव, परवलिया में उक्त समय पर उक्त कार्यक्रम होगा। 
जोर-शोर से की जा रहीं तैयारियां
श्रीमती नलिनी बैरागी के अनुसार उक्त भव्य आयोजन के लिए तैयारियां जोर-शोर से की जा रहीं है। साथ ही आयोजन को लेकर जिम्मेदारियां भी सौंपी गई है। जिलेभर में सतत लोजो से संपर्क कर इस दिन अपने घरों में उक्त आयोजन करने हेतु आव्हान किया जा रहा है। निर्धारित किए गए अनुसार प्रत्येक घर में परिवार के सदस्य पूजन पश्चात् 5 दीपक प्रज्जवलित करेंगे। बाद 24 बार गायत्री मंत्र का जाप किया जाएगा। 
मनाया जाएगा
इसके साथ ही 22 जून को झाबुआ के कॉलेज मार्ग स्थित गायत्री शक्तिपीठ पर गायत्री परिवार द्वारा पं. श्रीराम शर्मा आचार्यजी का महाप्रयाण दिवस मनाया जाएगा। इस दिन पं. श्रीराम शर्मा आचार्यजी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर सुबह 9 बजे पंचकुंडीय यज्ञ होगा। इस दौरान गर्भवती महिलाओं के गर्भोत्सव संस्कार एवं अन्य संस्कार संपन्न होंगे। शाम को 500 दीप यज्ञ के साथ महाआरती होगी। पश्चात् महाप्रसादी का वितरण किया जाएगा। पं. घनष्याम बैरागी एवं श्रीमती नलिनी बैरागी ने समस्त जिलेवासियों से आव्हान किया है कि 22 जून को अपने घरों में आवष्यक रूप से निर्धारित समय पर पूजन, गायत्री मंत्र का जाप कर दीप यज्ञ करे।
और पड़े
शेयर

प्रभारी फैरी के साथ दोपहर में महाआरती एवं महाप्रसादी का होगा आयोजन 

यह जानकारी देते हुए कार्यक्रम संयोजक गायत्री अशोक सावलानी ने बताया कि सीधी समाज द्वारा यह करीब 10वां उत्सव मनाया जा रहा है। आयोजन को लेकर समाज की महिलाओं की बैठक श्री सावलानी के सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित निवास पर आयोजित हुई। जिसमें महिलाओं ने आपस में विचार-विर्मष कर आवष्यक निर्णय लिए एवं कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार की। बैठक में गायत्री सावलानी के साथ मुख्य रूप से कविता सावलानी, लक्ष्मी गोलानी, हर्षा गिधवानी, रूक्मणी गोलानी, रीना चावला, भूमिका गोलानी, जिया गोलानी, दुर्गा गोलानी, आज्ञा छाबड़ा, सोनाक्षी गोलानी, वंषिता गोलानी आदि शामिल हुए। 
यह होंगे आयोजन
कविता सावलानी ने बताया कि झूलेलाल जयंती (चेटीचंद पर्व) पर अलसुबह साढ़े 5 बजे उनके निवास स्थान से प्रभात फैरी निकाली जाएगी। जिसमें भगवान के ध्वज के साथ दो पहिया वाहन पर सवार होकर समाज के सभीजन शहर के प्रमुख मार्गों से होकर निकलेंगे एवं जयघोष लगाए जाएंगे। समापन पुनः निवास स्थान पर होगा। दोपहर 11 बजे स्वलापाहार का आयोजन होगा। 12 बजे गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग पर भगवान झूलेलालजी का जन्मोत्सव मनाते हुए महाआरती की जाएगी एवं महाप्रसादी का आयोजन होगा। इस दौरान बच्चों के लिए विषेष रूप से फेंसी ड्रेस प्रतियोगिता का भी आयोजन रखा गया है। बैठक में तय किया गया कि सभी कार्यक्रमों में पुरूष कुर्ता-पायजामा एवं महिलाएं गुलाबी रंग की वेषभूषा में शामिल होंगी। बैठक के अंत में आभार हर्षा गिधवानी ने माना। इस दौरान महिलाओं द्वारा सामूहिक रूप से भजन-किर्तन भी किए गए।

और पड़े
शेयर

पुरस्कार वितरण 25 फरवरी को

झाबुआ । गायत्री परिवार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा वर्ष 2017 के परिणाम घोषित हो गए है। प्रावीण्य सूची मे आए प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को 25 फरवरी को स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ बसंत कालोनी पर आयोजित समारोह मे पुरस्कृत किया जाएगा। परीक्षा के जिला संयोजक श्याम त्रिवेदी ने जानकारी देते हुए बताया की पिछले वर्ष 11 नवम्बर को जिला स्तर पर परीक्षा आयोजित की गई थी। जिसमे 25 हजार से अधिक विद्यार्थी शामिल हुए थे। हिन्दी ओर अंग्रेजी माध्यम मे कक्षा 5वी से 12वी तक की कक्षाओं के लिए परीक्षा आयोजित की गई थी। जो जिले के शासकीय ओर निजी विद्यालयों मे संपन्न हुई थी।  
भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा 2017-2018 के परिणाम घोषित -bhartiya sanskriti gyan pariksha result-declared 2018पुरस्कृत होंगे विद्यार्थी
परीक्षा के सचिव एस एस पुरोहित ने जानकारी देते हुए बताया की स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ बसंत कालोनी पर पुरस्कार वितरण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसमे जिला एवं तहसील स्तर पर प्रावीण्य सूचि मे आए विद्यार्थीयों को पुरस्कार स्वरूप प्रमाण पत्र, नगद राशी एवं प्रतिक चिन्ह भेंट किए जाएंगे। विद्यार्थीयों को मार्ग व्यय भी दिया जाएगा ओर भोजन व्यवस्था भी रखी गई है।

जिला स्तरीय प्रावीण्य सूचि मे आए विद्यार्थीयों के नाम 
कक्षा 5वी में 
  1. प्रथम कु. इशिका योगेन्द्र सोलंकी न्यू कैथोलिक मिशन स्कूल झाबुआ , 
  2. द्वितीय अजय कलसिंह मुनिया शा.मा.वि झकनावदा पेटलावद ,
  3. तृतीय रसिक दिनेश मोदी श्री वल्लभ बाल विद्या निकेतन झाबुआ 
कक्षा 6 टी में
  1. प्रथम मडिया पप्पु भूरिया मा0वि0 माधोपुरा (झाबुआ)
  2. द्वितीय कु. पूजा सिकोद खड़िया जवाहर नवोदय विद्यालय थांदला 
  3. तृतीयं कु. साक्षी जगदीश पाटीदार श्रेयस हाईस्ककूल रायपुरिया ।, 
कक्षा- 7 वी में
  1. प्रथम रूपेश शंकर मैड़ा बालक आश्रम नाहरपुरा , 
  2. द्वितीय कु. पुष्पा अमरंिसह सिंगाड़ आदर्श महाराणा प्रताप काॅन्वेंट नौगावा मेघनगर, 
  3. तृतीय कु. दिव्या चुन्नीलाल अमलियार सेंट फ्लोरा स्कूल थांदला 
कक्षा-8 वी में 
  1. प्रथम संजय रामलाल परमार उत्कृष्ट उ.मा.वि. रामा , 
  2. द्वितीय कुमारी रीतिका दीपसिंह पाल श्री वल्लभ बाल विद्या निकेतन झाबुआ
  3. तृतीय भमरंिसह पारसिंह गणावा आदर्श हाईस्कूल अगराल मेघनगर 
कक्षा-9 वी में 
  1. प्रथम कु. संजना संजय पाटीदार न्यू हाईट्स पब्लिक स्कूल खवासा ,
  2. द्वितीय हकरू दलसिंहह कटारा माडल उ.मा.वि. कल्याणपुरा 
  3. तृतीय महेश बहादुर मकवाना आदर्श हाईस्कूल अगराल मेघनगर , 
कक्षा 10 वी में 
  • प्रथम विनोद जयन्तिलाल पाटीदार प्रोग्रेसिव एकेडमी पेटलावद 
  • द्वितीय कु. अंजली तेरसिंह मचार कन्या उ.मा.वि.मेघनगर 
  • तृतीय कु. संजीवनी दल्ला गणावा उत्कृष्ट उ.मा.वि. झाबुआ
कक्षा -11 में 
  1. प्रथम कु. राधा हरिराम पाटीदार सफलता उ.मा.वि. पेटलावद 
  2. द्वितीय परेश मांगीलाल बामनिया उत्कृष्ट उ.मा.वि. झाबुआ 
  3. तृतीय अभिजित जसवंत परमार उ.मा.वि. करवड़ रहे 
कक्षा-12 वी में
  1. प्रथम कु. सोनलता केशव बुन्देला शासकीय उत्कृष्ट हायर सेकेण्डरी स्कूल झाबुआ
  2. द्वितीय जगन मांगु भयड़िया बालक उ.मा.वि. पारा 
  3. तृतीय करणसिंह रमेश डाॅंगी कैथोलिक मिशन स्कूल थांदला ने स्थान प्राप्त किया।
और पड़े
शेयर

महिलाओं ने संगीत मय भजनों की प्रस्तुति दी अन्नकूट मे  

झाबुआ । स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ कालेज मार्ग झाबुआ पर सायंकाल 7-30 बजे से आवंला नवमी के पावन अवसर पर श्रद्धा एवं भक्ति के साथ मां गायत्री एवं स्फटिक महाकाल को अन्नकोट के नैवेद्य अर्पण का कार्यक्रम आयोजित किया गया । गायत्री शक्तिपीठ के पण्डित घनश्याम बैरागी ने इस अवसर पर हिन्दू पर्वो के महत्व को बताते हुए कहा कि आंवला नवमी के बारे में ऐसी मान्यता है कि इस दिन द्वापर युग का आरंभ हुआ था। कहा जाता है कि इसी दिन विष्णु भगवान ने कुष्माण्डक दैत्य को मारा था और उसके रोम से कुष्माण्ड अर्थात आवलें की बेल हुई। इसी कारण कुष्माण्ड का दान करने से उत्तम फल मिलता है। 
         इस पर्व के अवसर पर भगवान या अपने आराध्य को अन्नकूट प्रसादी का नैवेद्य अर्पित करने से कोटी प्रसादी का पूण्य प्राप्त होमता है। पण्डित बैरागी ने आंवला नवमी पर आंवला पूजन एवं विधि विधान से तुलसी का विवाह कराने से भी कन्यादान तुल्य फल मिलता है। गायत्री शक्तिपीठ पर इस आयोजन के पूर्व मां गायत्री एवं भगवान स्फटिक महाकाल की महा आरती की गई । गायत्री परिवार की महिलाओं ने श्रीमती नलिनी बैरागी के नेतृत्व में युग संगीत एवं भजन कीर्तन का आयोजन किया ।
          इस अवसर पर श्रीमती मनोरमा डावर, विजिय बजाज, हरिप्रिया पाठक, किरण निगम, गायत्री सांवला, अर्चना राठौर, निर्मला गोयल,पार्वति लश्करे , ललिता वर्मा, शिवकुमारी सोनी, सुलोचना चौहान आदि महिलाओं ने भजन कीर्तन के कार्यक्रम में सभागिता की । गायत्री मंदिर में मां गायत्री एवं स्फटिक महादेव अन्नकूट प्रसादी का नैवेद्य अर्पित किया गया तथा सामुहिक भोजन प्रसादी का आयोजन किया गया जिसमे बडी संख्या में श्रद्धाल्रुओं ने अन्नकूट भोजन प्रसादी ग्रहण की । इस कार्यक्रम को र्सफल बनाने में विशेष सहयोग घनश्याम बैरागी, जीतसिंह भूरिया, प्रकाश डावर, सुरेश निगम का रहा । 
और पड़े
शेयर

पुरस्कार वितरण समारोह 12 फरवरी को शक्तिपीठ पर आयोजित 

अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा
      भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के जिला संयोजक श्याम त्रिवेदी ने जानकारी देते हुए बताया की प्रतिवर्ष आयोजित होने वाली यह परीक्षा 15 अक्टोबर 2016 को आयोजित की गई थी। जिसमें शासकीय एवं निजी शैक्षणिक संस्थाओं मे कक्षा 5 वी से 12 वीं स्तर तक के 24 हजार 8 सो 50 विद्यार्थियों  ने यह परीक्षा दी थी। प्रतिवर्ष परीक्षा मे बढते बच्चो की संख्या के कारण राज्य स्तर पर जिले को चौथा स्थान प्राप्त हुआ है। 
 पुरस्कार वितरण रविवार को
    परीक्षा के जिला सचिव एसएस पुरोहित ने जानकारी देते हुए बताया की पुरस्कार वितरण समारोह 12 फरवरी रविवार को स्थानीय गायत्री शक्तिपीठ बसंत कालोनी पर दोपहर 12 बजे से प्रारंभ होगा। प्रावीण्य सूचि मे जिला एवं तहसील स्तर पर प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान पर रहे छात्र छात्राओं को पुरस्कार के रूप मे प्रमाण पत्र, प्रतीक चिन्ह एवं नगद राशि प्रदान की जाएगी।
      तहसील प्रभारियों द्वारा प्रावीण्य सूची मे स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं की सूचना उनके विद्यालयों मे पहुंचा दी गई है। जो विद्यार्थी इस परीक्षा मे सम्मीलित हुए थे उनके प्रमाण पत्र भी संस्थाओं को पहुंचा दिए गए है। पुरस्कार विरतण समारोह मे जिले के अन्य स्थानों एवं तहसील से आने वाले विद्यार्थीयों को आने जाने का मार्ग व्यय दिया जाएगा एवं उनके लिए भोजन व्यवस्था भी रखी गई है।

Gayatri-Parivar-Shantikunj-Haridwar-Sanskrati-Gyan-Exam-Result-Declared-Today-अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के परिणाम घोषित

Gayatri-Parivar-Shantikunj-Haridwar-Sanskrati-Gyan-Exam-Result-Declared-Today-अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के परिणाम घोषित

Gayatri-Parivar-Shantikunj-Haridwar-Sanskrati-Gyan-Exam-Result-Declared-Today-अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के परिणाम घोषित

Gayatri-Parivar-Shantikunj-Haridwar-Sanskrati-Gyan-Exam-Result-Declared-Today-अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के परिणाम घोषित

Gayatri-Parivar-Shantikunj-Haridwar-Sanskrati-Gyan-Exam-Result-Declared-Today-अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के परिणाम घोषित

Gayatri-Parivar-Shantikunj-Haridwar-Sanskrati-Gyan-Exam-Result-Declared-Today-अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा आयोजित भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा के परिणाम घोषित

और पड़े
शेयर

ट्रेंडिंग

[random][carousel1 autoplay]

प्रायोजित लिंक्स

आपकी राय / आपके विचार .....

निष्पक्ष, और निडर पत्रकारिता समाज के उत्थान के लिए बहुत जरुरी है , उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ समाचार पत्र भी निरंतर इस कर्त्तव्य पथ पर चलते हुए समाज को एक नई दिशा दिखायेगा , संपादक और पूरी टीम बधाई की पात्र है !- अंतर सिंह आर्य , पूर्व प्रभारी मंत्री

आशा न्यूज़ समाचार पत्र के शुरुवात पर हार्दिक बधाई , शुभकामनाये !!!!- निर्मला भूरिया , पुर्व विधायक

जिले में समाचार पत्रो की भरमार है , सच को जनता के सामने लाना और समाज के विकास में योगदान समाचार पत्रो का प्रथम ध्येय होना चाहिए ... उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ सच की कसौटी और समाज के उत्थान में एक अहम कड़ी बनकर उभरेगा - कांतिलाल भूरिया , पुर्व सांसद

आशा न्यूज़ से में फेसबुक के माध्यम से लम्बे समय से जुड़ा हुआ हूँ , प्रकाशित खबरे निश्चित ही सच की कसौटी ओर आमजन के विकास के बीच एक अहम कड़ी है , आशा न्यूज़ की पूरी टीम बधाई की पात्र है .- शांतिलाल बिलवाल , पुर्व विधायक झाबुआ

आशा न्यूज़ चैनल की शुरुवात पर बधाई , कुछ समय पूर्व प्रकाशित एक अंक पड़ा था तीखे तेवर , निडर पत्रकारिता इस न्यूज़ चैनल की प्रथम प्राथमिकता है जो प्रकाशित उस अंक में मुझे प्रतीत हुआ , नई शुरुवात के लिए बधाई और शुभकामनाये.- कलावती भूरिया , पुर्व जिला पंचायत अध्यक्ष

मुझे झाबुआ आये कुछ ही समय हुआ है , अभी पिछले सप्ताह ही एक शासकीय स्कूल में भारी अनियमितता की जानकारी मुझे आशा न्यूज़ द्वारा मिली थी तब सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित कर पुरे मामले को संज्ञान में लेने का निर्देश दिया गया था समाचार पत्रो का कर्त्तव्य आशा न्यूज़ द्वारा भली भाति निर्वहन किया जा रहा है निश्चित है की भविष्य में यह आशा न्यूज़ जिले के लिए अहम कड़ी बनकर उभरेगा !!- डॉ अरुणा गुप्ता , पूर्व कलेक्टर झाबुआ

Congratulations on the beginning of Asha Newspaper .... Sharp frown, fearless Journalism first Priority of the Newspaper . The Entire Team Deserves Congratulations... & heartly Best Wishes- कृष्णा वेणी देसावतु , पूर्व एसपी झाबुआ

महज़ ३ वर्ष के अल्प समय में आशा न्यूज़ समूचे प्रदेश का उभरता और अग्रणी समाचार पत्र के रूप में आम जन के सामने है , मुद्दा चाहे सामाजिक ,राजनैतिक , प्रशासनिक कुछ भी हो, हर एक खबर का पूरा कवरेज और सच को सामने लाने की अतुल्य क्षमता निश्चित ही आगामी दिनों में इस आशा न्यूज़ के लिए एक वरदान साबित होगी, संपादक और पूरी टीम को हृदय से आभार और शुभकामनाएँ !!- संजीव दुबे , निदेशक एसडी एकेडमी झाबुआ

Asha News

{picture#YOUR_PROFILE_PICTURE_URL} YOUR_PROFILE_DESCRIPTION

संपर्क फॉर्म

आपका नाम

ईमेल *

सन्देश *

Powered by Blogger.