क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर झाबुआ के सिद्धेश्वर कॉलोनी में व्यवसाईयो की समस्या जानने पहुंचे,

वार्ड पार्षद नरेन्द्र राठौरिया के नेतृत्व में व्यवसायी महिला-पुरूषों की ओर से सौंपा गया ज्ञापन, तत्काल निराकरण हेतु किया आश्वास्त
झाबुआ। पिछले दिनों जिला प्रशासन की ओर से स्थानीय पोस्ट ऑफिस के पीछे सिद्धेश्वर कॉलोनी में अतिक्रमण मुहीम चलाते हुए बुल्डोजर एवं जेसीबी मशीनों से निर्धन व्यवसायी महिला-पुरूषों की गुमटियो और उनमें रखे सामान को तहस-नहस करने से व्यवसाईयो को काफी नुकसान हुआ था। व्यवसाईयों ने प्रशासन की इस ताबड़तोब एवं मनमानी कार्रवाई का इस दौरान खुलकर विरोध भी किया था।
      इसी संदर्भ में 28 अप्रेल, गुरूवार शाम 6.30 बजे क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर सिद्धेश्वर कॉलोनी में जिन समस्त व्यवसाईयों की गुमटी एवं दुकाने प्रशासन द्वारा उग्र रूख अख्तीयार करते हुए तोड़ दी गई थी, उन व्यवसाईयों की पीड़ा जानने पहुंचे। यहां उनका वाहन से प्रवेश करते ही स्वागत भाजपा मंडल झाबुआ कोषाध्यक्ष एवं वार्ड पार्षद नरेन्द्र राठौरिया तथा युवा भाजपा नेता भूपेश सिंगोड़ ने किया। इस अवसर पर सांसद श्री डामोर के साथ विशेष रूप से भील सेवा संघ के संभागीय अध्यक्ष अजय डामोर भी उपसिथत थे। सांसद श्री डामोर ने सर्वप्रथम सिद्धेश्वर महादेव मंदिर में सिद्धेश्वर महादेव एवं हनुमानजी के दर्शन किए। बाद यहां बारी-बारी से समस्त महिला-पुरूष व्यवसाईयों की समस्याएं और परेशानी जानी।
प्रशासन ने अपनाया मनमाना और भेदभावपूर्ण रवैया
बाद वार्ड पार्षद नरेन्द्र राठौरिया के नेतृत्व में क्षेत्रीय सांसद श्री डामोर को ज्ञापन प्रस्तुत किया गया। जिसमें उल्लेख किया गया कि विगत दिनों जिला प्रशासन, राजस्व विभाग एवं नगरपालिका द्वारा वार्ड क्र. 18 में सिद्धेश्वर महादेव मंदिर के आसपास लगने वाली गुमटियो और ठेलगााड़ियो को ताबड़तोड़ अमले के साथ बुल्डोजर और जेसीबी मशीनों से तहस-नहस कर दिया गया। गुमटियों में सामान भी रखा होने से गुमटी के साथ सारा सामान की भी टूट-फूट होने के साथ चोरी भी हुआ। जिससे एक व्यापारी को कम से 50-70 हजार रू. का नुकसान होने के साथ उनके सामने बेरोजगारी का भी संकट उत्पन्न हो गया है।
महंगाई के दौर में कैसे करे पालन पोषण
ज्ञापन के माध्यम इन व्यवसाईयों द्वारा पीढ़ा व्यक्त करते हुए कहा गया कि प्रशासन द्वारा उनका व्यवसाय छीन लेने से उनके सामने रोजी-रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है। वर्तमान में महंगाई के दौर में वह अपना एवं परिवार का पालन-पोषण किस तरह से करे। वर्तमान में बच्चों की स्कूल फीस और घर का किराया देना भी मुश्किल हो गया है। ऐसे में ज्ञापन में सांसद श्री डामोर से मांग करते हुए समस्त गुमटी व्यवसाईयों को अपना रोजगार चलाने के लिए पुनः दुकानों का संचालन हेतु उचित व्यवस्था करने के साथ ही नुकसानी भी दिलवाने की मांग की गई। व्यवसाईयों की पीढ़ा सुनने के बाद सांसद श्री डामोर ने इस मामले में तत्काल ही प्रशासनिक अधिकारियों से चर्चा कर निराकरण हेतु आश्वास्त किया गया।

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ न्यूज़ के साथ