बामनिया में रेलवे फाटक पर हुई दुर्घटना के संबंध में आवश्यक कार्यवाही हेतु कलेक्टर की अध्यक्षता में संयुक्त टीम की बैठक संपन्न

एस.डी.एम पेटलावद, रेलवे के अधिकारी एवं ब्रिज कार्पोरेशन के अधिकारी उपस्थित थे

झाबुआ। पश्चिम रेलवे के रतलाम मंडल के गोधरा-रतलाम खंड में बामनिया रेलवे स्टेशन के पास एलसी -72 का उन्मूलन 24/11/22 को समपार संख्या 72 पर रतलाम मंडल के गोधरा-रतलाम खंड में बामनिया रेलवे स्टेशन के पास एक गंभीर दुर्घटना हुई थी। जिसमें तीन लोगों की मृत्यु हो गई थी। क्रासिंग को समाप्त करने के संबंध में रेलवे एवं राज्य सरकार के प्रस्ताव प्रक्रियाधीन हैं। प्रति इस प्रस्ताव पर तेजी लाने के लिए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती रजनी सिंह की अध्यक्षता में आज कलेक्टर महोदय के चैंबर में बैठक आयोजित की गई। जिसमें अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री अनिल राठौर, श्री जितेंद्र यादव, उप. मुख्य अभियंता (निर्माण)- रतलाम, श्री मुकेश कुकलौर्य, उप. मुख्य अभियंता (जी5)-रतलाम, श्री डी.डी. रतनेले अनुविभागीय अधिकारी, लोक निर्माण विभाग (शाखा निर्माण)-खरगौन (म.प्र.),  उपस्थित थे। 

इस संयुक्त बैठक में निम्नलिखित निर्णय लिये गये

  • इस बात पर चर्चा हुई कि रोड ओवर ब्रिज पर प्रस्तावित रोड लेवल का रोड लेवल होगा। रेल स्तर से लगभग 8 मी. मौजूदा सड़क के दोनों तरफ यू-टाइप तीरछा मोड़ है। चूंकि लेवल क्रॉसिंग हाई बैंक पर है, उपयोगकर्ता की सुरक्षा के दृष्टिकोण से एक आरयूबी एक बेहतर प्रस्ताव है। इससे लागत और समय दोनों की बचत भी होगी। इसलिए, एलसी के बदले आरयूबी के प्रावधान की संभावना और आरओबी के चल रहे प्रस्ताव का पता लगाया जाना चाहिए। 
  • आरयूबी का पूरा काम रेलवे द्वारा बनाया जाएगा। रेलवे और राज्य सरकार के बीच लागत साझा करने के आधार पर प्रशासन। आरओबी के निर्माण के प्रस्ताव को गिरा हुआ माना जाएगा। 
  • काम का ताजा जीएडी रेलवे द्वारा तैयार किया जाएगा और राज्य सरकार द्वारा अनुमोदित किया जाएगा। जैसा काम होगा लागत साझेदारी के आधार पर. भूमि अधिग्रहण यदि आवश्यक हो तो राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। 
  • रेलवे सीमा के बाहर यदि कोई अतिक्रमण है तो उसे लोक निर्माण विभाग (न.सं. निर्माण) द्वारा हटाया जाएगा। पुनर्वास कार्य, यदि कोई हो, लोक निर्माण विभाग (न.सं.) विभाग द्वारा किया जाएगा। 
  • संपर्क सड़कों का रखरखाव राज्य सरकार के लोक निर्माण विभाग द्वारा किया जाएगा।  
  • वर्तमान में वहाँ सघन जनसंख्या अनुमानित क्षेत्र है। यहां पर भारी संख्या में वाहन आवागमन होता है। इसलिए हमें रतलाम की तरफ आरओबी साइट होना चाहिए। ऐसा न होने की स्थिति में नया स्लेशन आरओबी टी लेवल -72 हैट के पास एक अंडर ब्रिज ईवल क्रॉसिंग की योजना बनाई जानी चाहिए। 

 आज कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती रजनी सिंह के निर्देश अनुसार यह संयुक्त टीम आज रेलवे फाटक पर निरीक्षण एवं आवश्यक कार्यवाई हेतु पहुंचे है। 

Jhabua Collector Rajni Singh- बामनिया में रेलवे फाटक पर हुई दुर्घटना के संबंध में आवश्यक कार्यवाही  हेतु कलेक्टर की  अध्यक्षता में संयुक्त टीम की बैठक संपन्न


रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ न्यूज़ के साथ