झाबुआ पुलिस ने किया रानापुर क्षेत्र में हुए गोली कांड का खुलासा

राणापुर, झाबुआ।  पुलिस अधीक्षक अगम जैन द्वारा अपराधों पर लगाम कसने शीघ्र और कठोर कार्यवाही के निर्देश दिए गए, इसी तारतम्य में पुलिस द्वारा रानापुर में विगत दिनों हुए गोलीकांड का खुलासा किया है। दिनांक 17.11.2022 की रात्री में फरियादी मनीष व उसका परिवार खाना खाकर सो गये। घर के अंदर वाले कमरे में मनीष व जीजा पिन्टु सोये हुए थे तथा उसके पिता मकना, मां व दो बहने घर के बाहर वाले कमरे में सो गये थे कि दिनांक 18.11.2022 को रात करीब 02.00 बजे गोली की आवाज से सभी उठ गये। बाहर वाले कमरे मे जाकर देखा तो फरियादी मनीष के पिता मकना के बांये तरफ पुट्ठे से खुन निकल रहा था तथा मकान के उपर के 02 कवेलु हटे हुए थे। परिवारवालों ने गोली मारने वाले व्यक्ति को बाहर जाकर ढुंडा लेकिन जब तक वह व्यक्ति वहां से अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गया। मकना परमार को किसी अज्ञात व्यक्ति नें जान से मारने की नियत से बन्दुक से गोली मारकर हत्या कर दी। मृतक मकना के शव का शार्ट पी.एम. करवाया गया तो डॉक्टर द्वारा मृतक मकना पिता भुरजी परमार उम्र 45 वर्ष निवासी ग्राम बुधाशाला की मृत्यु बंदुक की गोली लगने से आई चोट से होना लेख किया गया। जिस पर थाना रानापुर में हत्या का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

            सुचना मिलते ही मामले की गंभीरता को देखते हुए स्वयं पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री अगम जैन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री प्रेमलाल कुर्वे, एसडीओपी पेटलावद सुश्री बबीता बामनिया, थाना प्रभारी रानापुर कैलाश चौहान द्वारा तत्काल घटनास्थल का निरीक्षण किया गया। व पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने के निर्देश दिये गये। 

Jhabua Police- Ranapur Police -झाबुआ पुलिस ने किया रानापुर क्षेत्र में हुए गोली कांड का खुलासा


घटना का खुलासा -

पुलिस द्वारा आसपास के लोगो से पुछताछ की गई। घटना स्थल का बारीकी से निरीक्षण किया गया। पुलिस जब मृतक मकना के परिजनों से विभिन्न पहलुओं पर बारीकी से जांच कर साक्ष्य जुटा रही थी कि पुलिस के सामने यह तथ्य आया कि मृतक मकना की पत्नि सीवाबाई जांच में सहयोग ना करते हुए कुछ तो छिपा रही थी। जिस पर सीवाबाई से संख्ती से पुछताछ की गई तो उसने सारा राज उगल दिया। आरोपीया सीवा ने बताया कि मेरे पति मकना के पास एक 12 बोर देशी कट्टा था। वह प्रतिदिन अपने पास ही लेकर सोता था। घटना वाली रात को सीवाबाई करीब 2 बजे बाथरुम जाने के लिये उठी, तो सीवाबाई ने अपने पति की खाट पर एक देशी कट्टा रखा हुआ देखा तो, उसने उस कट्टे को उठाया और उसका खटका दबाया तो देशी कट्टा चल गया और गोली मृतक मकना परमार के बाये पुठ्ठे पर लगी। उसने कट्टा हडबड़ाहट में छुपा लिया और मौका देखकर अपने घर के उपर लगे दो कवेलु हटा दिये। तभी उसी कमरे सो रही मृतक मकना की लडकिया व उसका लडका व दामाद उठ गये तो आरोपीया ने बताया कि उपर कवेलु हटाकर किसी अज्ञात व्यक्ति ने मृतक मकना को गोली मार दी है और आरोपीया आसपास रहने वाले लोगो को बुलाने चली गयी तथा मौका देखकर जिस कट्टे से गोली चली थी, उस कट्टे को साडी के पल्लु मे छुपाकर घर के पास स्थित एक कुए मे फेक दिया। आरोपीया सीवाबाई को गिरफ्त में लिया जाकर उसकी निशादेही से 12 बोर का देशी कट्टा जप्त किया गया। 

आरोपी का नाम -  

  1. आरोपीया सीवा पति मकन परमार उम्र 44 वर्ष निवासी बुधाशाला (गिरफ्तार)

सराहनीय कार्य में योगदान - 

        हत्या के अपराध का खुलासा करने मे थाना राणापुर की टीम थाना प्रभारी राणापुर निरीक्षक कैलाश चौहान, . उप निरीक्षक पल्लवी भांबर चौकी प्रभारी कुंदनपुर, उप निरीक्षक लोकेन्द्र चौधरी, कार्य.सहायक उपनिरिक्षक  सुरसिह चौहान, सउपनिरिक्षक . महेश भामदरे, कार्य.प्रधान आरक्षक. 502 तेरसिह, कार्य.प्रधान आरक्षक. 391 जामसिह, आरक्षक. 177 केदार  महिला आरक्षक. 267 रिंकु, महिला आरक्षक 670 ममता  महिला आरक्षक 269 बिन्दु, आरक्षक 98 मगंलेश, आरक्षक 573 संदीप, आरक्षक 193 दीपक का सराहनीय योगदान रहा ।

रहें हर खबर से अपडेट झाबुआ न्यूज़ के साथ