Articles by "झाबुआ"

#Measles-Rubella 15 अगस्त 26 january 26 जनवरी abvp Administrative Admission-Alert b4 cinema balaji dhaam bhagoria bhagoria festival jhabua bjp cbse result cinema hall jhabua city crime cultural education election Epaper events Exclusive Famous Place Gallery gopal mandir jhabua Health and Medical jhabua jhabua crime Jhabua History Jobs Kadaknath matangi Meghnagar MISSING- ALERT Movie Review MPEB MPPSC National Body Building Championship India New Year NSUI petlawad politics post office ram sharnam jhabua Ranapur religious religious place Road Accident rotary club sd academy social sports thandla tourist place Video Visiting Place Women Jhabua अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अखिल भारतीय साहित्य परिषद अंगूरी बनी अंगारा अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस अपराध अरोडा समाज अल्प विराम कार्यक्रम अवैध रेत अवैध शराब अंहिसा दिवस आई.टी.आई आईसेक्ट आंगनवाड़ी आचार संहिता आजाद जयंती आदित्य पंचोली आदिवासी गुड़िया आनंद उत्सव आपकी सरकार आपके द्वार आबकारी विभाग आयुष्मान भारत योजना आरटीओं आर्ट आॅफ लिविंग शिविर आर्मी भर्ती आलेख आवंला नवमी आंवला नवमी आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक इनरव्हील क्लब ईद उत्कृष्ट सड़क उपचुनाव उमापति महादेव उर्स ऋषभदेव बावन जिनालय एकात्म यात्रा एजुकेट गर्ल्स एनएसयूआई एमपी पीएससी कड़कनाथ मुर्गा कन्या भोज कम्प्यूटर ऑपरेटर महासंघ कलाल समाज कलावती भूरिया कलेक्टर कलेक्टर कार्यालय कल्लाजी महाराज कवि सम्मेलन कांग्रेस कांतिलाल भूरिया कार्तिक पूर्णिमा कालिका माता मंदिर कालीदेवी कावड़ यात्रा काव्य संध्या किन्नर सम्मेलन कृषि कृषि महोत्सव कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ केरोसीन कैथोलिक डायसिस झाबुआ कोट्पा एक्ट कोरोना वायरस क्रिकेट टूर्नामेंट क्रिसमम क्षत्रिय महासभा खबरे अब तक खाद्य एवं औषधि विभाग खेडापति हनुमान मंदिर खेल गडवाड़ा गणगौर पर्व गणतंत्र दिवस गणेशोत्सव गर्मी गल पर्व गांधी जयंती गायत्री शक्तिपीठ गुड़िया कला झाबुआ गुड़ी पड़वा गुरू पूर्णिमा गेल झाबुआ गोपाल पुरस्कार गोपाल मंदिर झाबुआ गोपाष्टमी गोपेश्वर महादेव गोवर्धननाथ मंदिर गौशाला ग्रामीण बैंक घटनाए चक्काजाम चर्च चुनाव जन आशीर्वाद यात्रा जनपद जनसुनवाई जन्माष्टमी जय आदिवासी युवा संगठन जय बजरंग व्यायाम शाला जयस जवाहर नवोदय विद्यालय जिला चिकित्सालय जिला जेल जिला न्यायालय जिला विकलांग केन्द्र झाबुआ जिला सहकारी बैंक जीवन ज्योति हॉस्पिटल जैन मुनि जैन सोश्यल गुुप ज्योतिष परामर्श शिविर झकनावदा झाबुआ झाबुआ इतिहास झाबुआ का राजा झाबुआ पर्व झाबुआ पुलिस झाबुआ रियासत झाबूआ झूलेलाल जयंती टंट्या भील डाकघर डीआरपी लाईन तुलसी विवाह तेली समाज थांदला दशहरा दस्तक अभियान दिल से कार्यक्रम दीनदयाल उपाध्याय पुण्यतिथि दीपावली देवझिरी देवझिरी जैन तीर्थ धरना प्रदर्शन धारा 144 धार्मिक धार्मिक स्थल नक्षत्र वाटिका नगर परिषद नगरपालिका परिषद झाबुआ नरेंद्र मोदी नवरात्री नवरात्री चल समारोह नागरिकता संशोधन नि:शुल्क स्वास्थ्य मेगा शिविर निर्मला भूरिया निर्वाचन आयोग नेहरू युवा केन्द्र पटवारी संघ पथ संचलन परिवहन विभाग परीक्षा परीणाम पर्यटन स्थल पल्स पोलियो अभियान पाक्सो एक्ट पारा पावर लिफ्टिंग पिटोल पीएचई विभाग पुण्यतिथि पेटलावद पेंशनर एसोसिएशन पैलेस गार्डन पोलीटेक्निक काॅलेज प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय प्रतिभा सम्मान सम्मारोह प्रतियोगी परीक्षा प्रधानमंत्री आवास योजना प्रशासनिक फिट इण्डिया फुटतालाब फेंसी ड्रेस फ्लैग मार्च बजरंग दल बस स्टैंड बहादुर सागर तालाब बामनिया बारिश बाल कल्याण समिति बालिका सशक्तिकरण अभियान बिरसा मुंडा बेटी बचाओं अभियान बोहरा समाज ब्राह्राण समाज ब्लू व्हेल गेम भगोरिया पर्व भगोरिया मेला भगौरिया पर्व भजन संध्या भर्ती भागवत कथा भाजपा भारत निर्वाचन आयोग भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान भारतीय जीवन बीमा निगम भारतीय जैन संगठना भारतीय थल सेना भारतीय संस्कृति ज्ञान परीक्षा भावांतर योजना मध्यप्रदेश टूरिज्म अवार्ड मध्यप्रदेश पर्यटन विभाग मध्यप्रदेश बाल अधिकार संरक्षण आयोग मनकामेश्वर महादेव मनरेगा मल्टीप्लेक्स सिनेमा महात्मा गांधी महाशिवरात्रि महिला आयोग महिला एवं बाल विकास विभाग माछलिया घाट मिशन इन्द्रधनुष मीजल्स रूबेला मुख्यमंत्री उत्कृष्टता पुरस्कार मुख्यमंत्री कन्यादान योजना मुख्यमंत्री कप मुख्यमंत्री महिला सशक्तिकरण योजना मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चोहान मुस्लिम समाज मुहर्रम मूवी रिव्यु मेघनगर मेरे दीनदयाल सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता मैराथन दौड़ मोड़ ब्राह्मण समाज मोदी मोहल्ला मोहनखेड़ा यातायात युवा उत्सव युवा दिवस युवा शक्ति संगठन यूनीसेफ योग योग शिविर रक्तदान रंगपुरा रंगोली रतलाम रंभापुर राजगढ़ राजगढ नाका राजनीति राजनेतिक राजपुत समाज राजवाडा चौक राज्यपाल राणापुर राम शरणम् झाबुआ रामशंकर चंचल रामा रायपुरिया राष्ट्रीय एकता दिवस राष्ट्रीय खेल दिवस राष्ट्रीय पोषण मिशन राष्ट्रीय बालरंग राष्ट्रीय बॉडी बिल्डिंग चैम्पियनशीप राष्ट्रीय मानवाधिकार राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ रेल्वे स्टेशन रैली रोग निदान रोजगार मेला रोटरी क्लब लक्ष्मीनगर विकास समिति लाडली शिक्षा पर्व लाॅकडाउन लॉक डाउन लोक सेवा केन्द्र लोकरंग लोकरंग शिविर वनवासी कल्याण परिषद वरदान नर्सिंग होम वर्ल्ड रिकॉर्ड वाटसएप विजय दिवस विद्युत प्रदाय विधायक विधायक शांतिलाल बिलवाल विश्व आदिवासी दिवस विश्व उपभोक्ता संरक्षण दिवस विश्व विकलांग दिवस विश्व हिन्दू परिषद वेटलिफ्टिंग वेलेंटाईन डे वैश्य महासम्मेलन व्यापारी प्रीमियर लीग शरद पूर्णिमा शहीद सैनिक शारदा विद्या मंदिर शासकीय पाॅलिटेक्निक महाविद्यालय शासकीय महाविद्यालय झाबुआ शिक्षा शिवगंगा शिविर शौर्य दिवस श्रद्धांजलि सभा श्रावण सोमवार श्री गौड़ी पार्श्वनाथ जैन मंदिर सकल व्यापारी संघ संगीत सत्यसाई सेवा समिति सदभावना दौड संपादकीय सर्वब्राह्मण समाज साई मंदिर साज रंग झाबुआ सामाजिक सामूहिक सूर्य नमस्कार सारंगी सांसद सांस्कृतिक साहित्य सिंधी समाज सीपीसीटी परीक्षा सुर श्री सुशासन दिवस स्थापना दिवस स्वच्छ भारत मिशन स्वच्छता सर्वेक्षण स्वतंत्रता दिवस हज हजरत दीदार शाह वली हनुमान जयंती हरितालिका तीज हरियाली अमावस्या हस्तशिल्प हाथीपावा हाथीपावा महोत्सव हिन्दू नववर्ष होमगार्ड होर्डिग्स होली झाबुआ
Showing posts with label झाबुआ. Show all posts

झाबुआ। प्रदेश में उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. मोहन यादव द्वारा सोमवार को झाबुआ जिले के थांदला में स्थित मामा बालेश्वर दयाल एक्यूप्रेशर उद्यान में प्रख्यात स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, प्रखर पत्रकार श्री कन्हैयालाल वैद्य की 113 वीं जन्म जयंति वर्ष के अवसर पर आयोजित प्रतिमा अनावरण एवं व्याख्यान माला कार्यक्रम का माॅ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। डाॅ. यादव ने इस कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि स्व. श्री वैद्य द्वारा भारत की आजादी के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया। उनको हमेशा याद किया जावेगा। उन्होने देश की आजादी के लिए अपना तन, मन, धन न्यौछावर कर दिया। डाॅ. यादव ने कहा कि स्व. श्री वैद्य की प्रतिमा स्थापित होने के साथ ही प्रतिमा में प्राण आने वाली है। इस मुर्ती से आने वाली पढ़ी को प्रेरणा मिलेगी। डाॅ. यादव ने इस अच्छे आयोजन के लिए आयोजकों को बधाई दी। 

डाॅ. यादव ने कहा कि 1947 में देश आजाद हुआ। लार्ड मैकाले की शिक्षा पद्धति के बाद शिक्षा पद्धति में बदलाव नहीं हुआ यह हमारे लिए दुर्भाग्य की बाद है। वर्ष 1968 तथा 1986 में शिक्षा नीति आई। दोनों शिक्षा पद्धति में युवाओं के लिए रोजगार प्रदान करने वाली नहीं है। डाॅ. यादव ने कहा कि प्रशन्ता इस बात की है कि यह वर्तमान शिक्षा नीति  3 से 4 साल मंथन करने के बाद यह शिक्षा नीति आई है। 5 वीं कक्षा में आते ही बच्चे को अपनी आजीविका की दिशा का पता चल जाएगा। आने वाले समय में हमारीे शिक्षा का परिदृश्य दिखाई देगा। इसके लिए 4 वर्ष की डिग्री दी जावेगी। इसके बाद अगर विद्यार्थी पढ़ना चाहे तो पहले साल उसको सर्टिफिकेट बटेगा। दूसरे साल उसको डिप्लोमा दे दिया जाएगा। अगर तीसरे साल पढ़ता है तो उसे डिग्री दे दी जावेगी और अगर चार साल पढ़ता है तो उसे शोध करने की डिग्री देंगे और तो ही उसकी डिग्री मानी जाएगी। हमारा प्रयास अनावश्यक भिड़ को खतम करना है। पहले जो विश्व विद्यालय के नाम पर शिक्षा पढ़ाने के संस्थान बन गए है। इन संस्थाओं को सुधारने के लिए आने वाले समय में वर्ष 2033 के बाद कोई विश्व विद्यालय नहीं रहेंगे। सभी महाविद्यालय विश्व विद्यालय में बदल जाएगें। यह अपने शोध कर सकेंग तथा अपनी परीक्षाएं करा सकंेगे। यह अपने बच्चों का सब प्रकार से ख्याल रख सकेंगे- जैसे बागवानी, मुर्गी पालन, मछली पालन इत्यादि।

    डाॅ. यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश में 1500 के आस पास काॅलेज है। 30 काॅलेजों को कोरोना काल में मान्यता दिलवाई है और ऐसे कोर्स चलाने के लिए कहा गया है। जिसमें 20 प्रतिशत बच्चों को अपना रोजगार चलाने के लिए गुंजाईश हो आज इसी बात की आवश्यकता है। हमारा प्रयास है कि आने वाले समय में इस तरह का अच्छा माहोल बनेगा। जिले स्तर पर भी यह बात चल रही है कि यह शिक्षा नीति है वह सबके लिए लाभदायक होना चाहिए। युवाओं को मार्गदर्शन करने वाली होना चाहिए। उन्होने अवगत कराया कि वर्ष 2023 तक तीन साल के अंदर 200 काॅलेज  माॅडल बनाए जाएगें।  जिसमें सभी प्रकार की अच्छी व्यवस्थाएं, अच्छे भवन, लाइब्रेरी, खेल का मैदान, सभी उपकरण उपलब्ध होंगे। पूरी दुनिया की नजर भारत तरफ है। हमको शिक्षा नीति में आवश्यक बदलाव करने की आवश्यकता पडे़गी।  उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. यादव ने साप्ताहिक समाचार पत्र ‘‘थीम‘‘ उज्जैन का विमोचन किया। इसके बाद स्व. श्री कन्हैयालाल वैद्य की प्रतिमा का अनावरण किया। नगर परिसद के अध्यक्ष श्री बंटी डामोर ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की और स्वागत भाषण दिया। इस अवसर पर अनुसूचित जाति, जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री कलसिंह भाबोर, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिंह नायक तथा दैनिक अग्निपथ उज्जैन के सम्पादक श्री अर्जुन सिंह चंदेल ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया।

इस कार्यक्रम में पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा, उज्जैन के पूर्व सांसद सत्यनारायण पवार, अपर कलेक्टर जे.एस.बघेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आनन्द सिंह वास्कले, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनिल भाना, इतिहासकार डाॅ.के.के. त्रिवेदी , वरिष्ठ पत्रकार कांति कुमार वैद्य, कल्याण जैन व बड़ी संख्या में गणमान्य नागरीक, पत्रकार गण उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ अभिभाषक श्री विरेन्द्र व्यास ने किया।

Jhabua News-  उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने स्व.श्री कन्हैयालाल वैद्य की प्रतिमा का अनावरण किया


और पड़े
शेयर

झाबुआ । भारत सरकार द्वारा कायाकल्प योजना के अन्तर्गत जिला चिकित्सालय झाबुआ के डाॅ. सोभान बबेरिया को उत्कृष्ट कार्य करने पर प्रशंसा पत्र जारी किया गया है। कलेक्टर रोहित सिंह ने शनिवार को यहाॅ कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में डाॅ. सौभान बबेरिया को प्रशंसा पत्र प्रदान किया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ.जेपीएस ठाकुर सिविल सर्जन डाॅ. बीएस बघेल, डाॅ. रामाराम खन्ना, डाॅ. सावन चौहान, डाॅ. राहुल गणावा, डाॅ. रिया शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Jhabua News- कलेक्टर श्री सिंह द्वारा डाॅ. बबेरिया को प्रशंसा पत्र वितरित


और पड़े
शेयर

झाबुआ। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा स्थापित सुशासन के उच्चतम माप दण्डों के महत्व को प्रतिपादित करते हुए उनके जन्म दिवस 25 दिसम्बर के एक दिन पूर्व 24 दिसम्बर को जिले में भी सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने कलेक्टर कार्यालय में अधिकारियों- कर्मचारियों को सुशासन दिवस की शपथ दिलाई। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एम.एल.मालवीय, डिप्टी कलेक्टर सुश्री ज्योति परते, सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग श्री प्रशांत आर्या सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे। जिले में सभी शासकीय कार्यालयों में कार्यालय प्रमुख द्वारा अधिकारियों-कर्मचारियों को सुशासन दिवस की शपथ दिलाई गई।

Jhabua News-पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस को सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस को सुशासन दिवस के रूप में मनाया गया
और पड़े
शेयर

झाबुआ।  श्री राष्ट्रीय छत्रिय महासभा के प्रदेश अध्यक्ष कुंवर धर्मेंद्र सिंह राजावत प्रदेश उपाध्यक्ष ठाकुर संतोष सिंह दिखित एवं ठाकुर अरविंद सिंह सिकरवार की अनुशंसा पर राकेश परमार जिला अध्यक्ष वरिष्ठ प्रकोष्ठ झाबुआ एवम कुवर शक्ति सिंह देवड़ा जिला अध्यक्ष युवा प्रकोष्ठ झाबुआ के पद पर मनोनीत किया गया। उपरोक्त मनोनयन पर झाबुआ के वरिष्ठ समाजजन सत्यनारायण सोनगरा, गोपाल सिंह चौहान, लाखन सिंह सोलंकी , रामगोपाल सोनगरा, भेरू सिंह सोलंकी, महेंद्र सोलंकी, महेंद्र पवार, महेंद्र गेहलोद, मनीष देवड़ा, अमित राठौर,  सुमित पवार, दशरथ पवार, निहाल चौहान, अरविंद साकला, विक्रम साकला द्वारा शुभकामनाएं प्रेषित की गई।  राकेश परमार एवं शक्ति सिंह देवड़ा के द्वारा समाज एवं राष्ट्र के सर्वागिण विकाश हेतु श्री राष्ट्रीय छत्रिय महासभा के माध्यम से भूमिका अदा करेंगे।

Jhabua News-शक्ति सिंह देवड़ा युवा प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष झाबुआ मनोनीत


और पड़े
शेयर

झाबुआ। सांसद गुमान सिंह डामोर ने रविवार को कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में शहीद बिरसा मुण्डा की जयंती के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम का शहीद बिरासा मुण्डा के चित्र में माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। श्री डामोर ने इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देश और प्रदेश में यह सरकार आई है तब से हमारे शहीदों को सम्मान देना शुरू किया है। ऐसे ही एक हमारे स्वतंत्रता सेनानी भगवान बिरसा मुण्डा रहें हैं। लगभग सवा सौ साल पहले जब इस देश में दोहरी शासन व्यवस्था थी। पहले तो अंग्रेज, दूसरे जमीदार और तीसरी जनता जिनका शोषण करते थे। ऐसे समय में अगर कोई स्वतंत्रता की बात करें तो यह गौरव की बात है। आदिवासियों का आज भी मुख्य धन्धा खेती है। जंगलों में रहना, स्वतंत्रता पूर्वक रहना आदिवासी समाज के रीति रिवाजों को निभाना यह आज भी मौजूद है और जो हमारा भारतीय संविधान है। उसमें जो आदिवासी की परिभाषा दी है उसमें यह लिखा है कि जो आदिवासी है उसके पेरामीटर्स बनाए गए हैं। जिसमें इसका उल्लेख है उनकों आदिवासी माना गया है। मुण्डा जनजाति में भगवान बिरसा मुण्डा का जन्म आज के दिन ही हुआ था। उनके पिता श्री सुगना मुण्डा तथा माता करनी मुण्डा ने शिक्षा के लिए मिशन स्कूल में भेजा। वहां उन्होंने देखा की उन्हें जो पढ़ाया और सिखाया जा रहा है वह हमारे धर्म की विरूद्ध होने के कारण स्कूल छोड़ दिया। यहां के आदिवासी समाज के लोग गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र और अन्य 15 राज्य में मजदूरी के लिए जाते हैं। 

             श्री डामोर ने कहा कि आप कल्पना करीये की जब उस समय में चारों तरफ अंधकार था ऐसे समय में अगर कोई व्यक्ति कहें की यह हमारी जमीन है और इस धरती पर हमारा अधिकार है। आप उस समय में खडे़ होकर सौचें की काई जनजाति का बालक चारों तरफ घोर अंधेरा हो, निराशा और गरीब हो ऐसे समय में वहां कोई बालक यह कहे की यह हमारा राज्य है ये हमारी धरती है तो यह बहुत बड़ी बात है। आज हमारे कई अच्छे-अच्छे लोग इस बात को समझ नहीं पाते। उस समय उस बालक ने कहा था कि महारानी के साम्राज्य का अन्त होना चाहिए और एक तरफ से गरीबी से लड़ना, एक तरफ अशिक्षा से लड़ना और एक तरफ सामाजिक बुराईयों से लड़ना, इन सबसे लड़ते हुए आदिवासी समाज को समझाना बहुत कठिन काम है। इसके बावजूद भगवान बिरसा मुण्डा ने वहां के आदिवासियों को इकट्ठा करना शुरू किया और सबको यह बताया अगर इस देश के कोई बडे़ दुश्मन है तो वह है अंग्रेज 1882 में अंगे्रजों ने पहली बार इण्डियन फारेस्ट एक्ट लागू किया। पहले आदिवासी जंगलों में रहते थे और अपनी इच्छानुसार खेती करते थे। इस एक्ट के आने के कारण आदिवासियों को बड़ी संख्या में जंगलों से खदेड़ना शुरू किया और अंग्रेजों ने आद्योगिक क्रांति के कारण जंगलों को काटना शुरू किया। इस समय बड़ी मात्रा में रेलवे लाईन बिछाई जा रही थी। जब जंगल कटने लगा तब हमारा आदिवासी बेरोजगार होने लगा। उनकों प्रताड़ित करने लगे और ऐसे में जो साहूकार थे। वे एक रूपया देते थे और 10 रूपयें वसूल करते थे। ऐसे समय में बिरसा मुण्डा ने समाज के लोगों को सही रास्ता दिखाया।

कलेक्टर रोहित सिंह ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि यह समय स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को याद करने और उनका आभार व्यक्त करने का है और उनके द्वारा प्रज्जवलित दीपों और उनके द्वारा दिए गए संकल्पों पूर्ण करने का है। जिन्होने भारत को स्वतंत्र कराने में अहम भूमिका निभाई। श्री सिंह ने कहा की प्रधानमंत्री भारत को आत्म निर्भर बनाना चाहते है और प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इसके लिए संकल्प लिया कि 2023 तक प्रदेश को आत्म निर्भर बनाएगें। उन्होनंे सभी से अपील की है कि इस संकल्प को पूरा करने के लिए आगे आए। श्री सिंह ने सभी को दिपावली तथा नए वर्ष की शुभकामनाएं दी।

उन्होने कहा कि सिंहभूम प्राचीन बिहार का वह भूभाग है जो वर्तमान में झारखंड के नाम से जाना जाता है, यहां की प्रमुख्य नगरी रांची 19 वीं शताब्दी के अन्तिम दशक में बिरसा विद्रोह की साक्षी रही है। बिरसा उस महानायक का नाम है जिसने मुण्डा जनजाति के विद्रोह का नेतृत्व किया था। एक इष्ट के रूप में पूजित बिरसा मुण्डा पूरे मुण्डा समाज के साथ-साथ देश के जनजातीय समाज की अस्मिता बन गये। बिरसा ने पूरे जंगलों की प्राणवायु को संघर्ष की ऊर्जा से भर सबके जीवन का आधार बना दिया था। 15 नवम्बर 1875 को जन्में बिरसा मुण्डा के पिता सुघना मुण्डा तथा माता करनी मुण्डा खेतिहर मजदूर थे। 

बिरसा बचपन से ही बडे़ प्रतिभाशाली थे। कुशाग्र बुद्धि के बिरसा का आरंभिक जीवन जंगलों में व्यतीत हुआ। उनकी योग्यता देख उनके शिक्षक ने बिरसा को जर्मन मिशनरी स्कूल में भर्ती करवा दिया। इसकी कीमत उन्हें धर्म परिवर्तन कर चुकानी पड़ी। यहां से मोहभंग होने के बाद बिरसा पढ़ाई छोड़ चाईबासा आ गये। देश में स्वाधीनता की आवाज तेज होने लगी थी। बिरसा मुण्डा पुनः अपनी मूल जनजातीय धार्मिक परंपरा में लौट आये। अंग्र्रेजों ने अपनी कुटिल नीतियों के द्वारा पहले जंगलों का स्वामित्व जनजातियों से छीना फिर बडे जमीदारों ने जनजातियों की जमीन हड़पना शुरू की। इस अन्याय के विरूद्ध बिरसा मुण्डा ने ब्रिटिशों, क्रिश्चियन मिशनरियों, भूपतियों एवं महाजनों के शोषण व अत्याचारों के खिलाफ छोटा नागपुर क्षेत्र में मुण्डा जनजाति के विद्रोह (1899-1900) का नेतृत्व किया। 3 मार्च 1900 को अंग्रेजों ने बिरसा को गिरफ्तार कर रांची जेल में बंद कर दिया। जेल में शारीरिक प्रताड़ना झेलते हुए 9 जून 1900 को बिरसा वीरगति को प्राप्त हो गये। बिरसा मरकर भी अमर है। छोटा नागपुर के जंगलों में आज भी बिरसा मुण्डा लोकगीतों में जीवित है। इतिहासकार श्री के.के त्रिवेदी ने जननायक बिरसा मुण्डा के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डाला।

इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं नोडल अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मण सिंह नायक, श्री दौलत भावसार, डिप्टी कलेक्टर डाॅ. अभय सिह खराड़ी, श्री यशवंत भण्डारी, श्री ओम शर्मा विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्री महेन्द्र कुमार खुराना ने किया तथा आभार अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एम.एल.मालवीय ने व्यक्त किया। 

Jhabua News-145वीं जयंती पर याद किए गए भगवान बिरसा मुंडा

145वीं जयंती पर याद किए गए भगवान बिरसा मुंडा

145वीं जयंती पर याद किए गए भगवान बिरसा मुंडा

और पड़े
शेयर

 भाजपा जिला मीडिया एवं जिला कार्यालय मंत्री ने जारी किया अपना व्यक्तत्व

झाबुआ। देशभर में लोकप्रिय हुए न्यूज चैनल ‘‘रिपब्लिक भारत’’ के प्रमुख, चीफ एडिटर अर्नब गोस्वामी को देश की महानगरी मुंबई में उनके निवास से महाराष्ट्र सरकार के ईषारे पर मुंबई पुलिस ने गिरफतार किया है। इस दौरान उनसे मुंबई पुलिस ने अभद्र व्यवहार करते हुए मारपीट करने तथा परिवार के साथ  भी झूमाझटकी आदि करने का जिला भाजपा संगठन ने भी विरोध जताया है तथा इसे महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस द्वारा लोकतंत्र की हत्या करने के समान बताया है।  

इस संबंध में अपना व्यक्तत्व जारी करते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर एवं जिला कार्यालय मंत्री पं. महेन्द्रकुमार तिवारी ने बताया कि अर्नब गोस्वामी देश के जाने-माने वरिष्ठ पत्रकार है। जो देश के मुद्दों पर खुलकर अपनी राय अपने विशेष शो ‘‘पूछता है भारत’’ के माध्यम से रखकर देश की जनता तक सच पहुंचाने का कार्य बखूबी करते है। उन्होंने देश के जटिल मुद्दों मुंबई के पालघर मामले में संतों एवं साधुओं की हत्या करने के बाद फेमस युवा अभिनेता सुशांतसिंह राजपूत के हत्या केस की भी परत-दर-परत खुलासा कर रहे है तथा हत्यारों की तह तक पहुंचकर उन्हें बेनकाब करने का बखूबी प्रयास अर्नब गोस्वामी एवं उनकी न्यूज चेनल की टीम द्वारा निर्भिक रूप से किया जा रहा है।

महाराष्ट्र सरकार एवं मुंबई पुलिस को रास नहीं आ रहा

उक्त दोनो वरिष्ठ पत्रकार श्री नाहर एवं श्री तिवारी ने आरोप लगाते हुए आगे कहा कि यह महाराष्ट्र की गठबंधन उद्धव सरकार को रास नहीं आ रहा है और ना ही कांग्रेस तथा एनसीपी के गले के नीचे उतर रहा है, इसलिए वह मुंबई में पुलिस पर लगातार दबाव बनाकर एवं उनके ईशारे पर मुंबई पुलिस ‘‘रिपब्लिक न्यूज चेनल‘‘ के पत्रकारों और उक्त चेनल के प्रमुख अर्नब गोस्वामी को आए दिन टारगेट बनाते हुए पुलिस द्वारा चेनल के पत्रकारों के साथ अभद्र व्यवहार करने और उन्हें गिरफतार करने जैसे कृत्य किए जा रहे है।

अर्नब गोस्वामी की गिरफतारी मीडिया की स्वतंत्रता का हनन

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी श्री नाहर एवं जिला कार्यालय मंत्री श्री तिवारी ने संयुक्त व्यक्तत्व में कहा कि 4 नवंबर, बुधवार को सुबह उक्त न्यूज चेनल के प्रमुख अर्नब गोस्वामी को उनके निवास पर आकस्मिक कार्रवाई कर मुंबई पुलिस द्वारा अभ्रद व्यवहार एवं मारपीट का सहारा लेकर गिरफतार करने तथा परिवारजनो के साथ भी झूमाझटकी करना साफ तौर पर मीडिया की स्वतंत्र का पूर्णतः हनन है। जिसका देश में जगह-जगह भाजपा, हिन्दू संगठन, करणी सेना, पत्रकार संगठन अपना विरोध दर्ज करवा रहे है। साथ ही अर्नब गोस्वामी को पुलिस गिरफत से रिहा कर उनकी स्वतंत्रता का हनन नहीं करने की मांग की जा रहीं है। इसी क्रम में जिला भाजपा ने भी अर्नब गोस्वामी की गिरफतारी का विरोध करते हुए उन्हें जल्द रिहा करने की मांग महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस से की है।

और पड़े
शेयर

जिले भर में 5 हजार घरो तक खुशियां वितरण करने का लक्ष्य

झाबुआ। हर घर मे दिवाली हो हर घर मे खुशियां आए..रहे ना कोई घर का कोना सुना.. एक कदम उन परिवारों की खुशियो की ओर..। यह कदम व सकारात्मक सोच भाजपा महिला मोर्चा, सूरज डामोर सखी मित्र मंडल एवं शौर्य भारती सेवा संस्था झाबुआ द्वारा जिले के समस्त धार्मिक एवं सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर झाबुआ जिले में 5 हजार से अधिक परिवारों तक घर-घर दीपक मिठाई एवं मास्क  वितरण करने का लक्ष्य रखा है। शौर्य भारती सेवा संस्थापिका,भाजपा महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष श्रीमती आरती भानपुरिया ने बताया कि कोरोना के खिलाफ जन आंदोलन की शुरुआत 2 अक्टूबर सेवा भारती संस्था ग्राम घोसलिया से दीप प्रज्वलन करके की जाएगी। 

Mass movement against corona, door-to-door lamps, sweets, masks distribution jhabua
          शुभारंभ के अवसर पर विशेष रूप से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक बाबू सिंह हाड़ा, भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक, सेवा भारती के संस्था के प्रमुख व श्रीमती सूरज डामोर के आतिथ्य में भारत माँ का पूजन करके अभियान का शुभारंभ होगा। सखी मंडल की प्रमुख श्रीमती सूरज डामोर ने बताया कि आयोजन के तहत जरूरतमंद घरों में दीपक, बाती,मिठाई (बूंदी) एवं मास्क का सेट बनाकर घर वितरण किया जाएगा।इसके पीछे मूल्य उद्देश्य है बहुत से ऐसे परिवार जो कि किन्ही कारणों की वजह से दीपावली जैसा महत्वपूर्ण त्यौहार नहीं मना पाते। उन घरों में मीठी मुस्कान के साथ उजालों के दीपक प्रज्वलित करना मुख्य लक्ष्य है। शौर्य भारती संस्था की अध्यक्ष श्रीमती सुशीला भाभर ने बताया कि हिंदू संस्कृति में दीपावली का अपना एक महत्व है सभी धार्मिक भावनाओं के साथ इस उज्जलित पर्व को की रोशनी का प्रकाश शहरी नहीं ग्रामीण क्षेत्रों तक भी हम पहुंचाएंगे व उन परिवारों  खुशियों में एक हाथ छोटा सा प्रयास हमारा भी रहेगा। 

जिले भर 25 ग्राम व शहरों में 5 हजार परिवारों तक खुशियां वितरण का लक्ष्य’

आयोजन का शुभारंभ 2 अक्टूबर को सुबह 10 बजे सेवा भारती संस्था से होगा तत्पश्चात ग्राम खच्चाटोडी में मंगल सेना के साथ सामग्री वितरण।11 बजे ग्राम रंभापुर में लव सेना,पत्रकार संघ, नवदुर्गा समिति, श्याम प्रेमी संगठन द्वरा वाल्मीकि बस्ती में सामग्री वितरण। दोपहर 1 बजे मदरानी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, भाजपा मंडल मदरानी, पंचाल समाज के साथ वितरण, दोपहर 3 बजे काकनवानी में दिलीप कटारा मित्र मंडल, सुंदरकांड समिति, मेवाड़ा कलाल समाज, हिंदू जनजाति युवा संगठन के जरूरतमंद परिवारों को सामग्री वितरण की जाएगी। दिनांक 3 अक्टूबर को मेघनगर, थांदला व दिनांक 5 अक्टूबर को सारंगी बामनिया, पेटलावद ,रायपुरिया व 8 अक्टूबर को पिटोल, पारा ,राणापुर 10 अक्टूबर को झाबुआ, रामा एवं अन्य स्थानों  सामग्री वितरण अभियान चलेगा। श्रीमती भानपुरिया ने अपील की है कि उक्त सेवा के कार्य में जिले के समस्त धार्मिक एवं सामाजिक संगठन अपने हाथों से जरूरतमंद परिवारों तक रोशनी एवं मीठी मनुहार फैलाएं व बढ़-चढ़कर आयोजन में आयोजक समिति के साथ हिस्सा लें। श्रीमती डामोर ने बताया कि जिन जरूरतमंद परिवारों को हम खुशियां वितरित कर रहे हैं सामग्री वितरण करते समय उनका फोटो सोशल मीडिया या अन्य प्लेटफार्म पर नहीं डालने की बात कही।

और पड़े
शेयर

संसदीय क्षेत्र में ट्रेनो को स्टोपेज के बारे मे भी अनुरोध किया

झाबुआ । लोकसभा सांसद गुमान सिंह जी डामोर जी ने मगलवार को रतलाम में पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक आलोक कंसल से भेंट कर संसदीय क्षेत्र के रेलवे संबंधित अहम मुद्दों पर विस्ताा से चर्चा की। सांसद गुमानसिह डामोर ने  जिसमें मुख्य रुप से इंदौर दाहोद रेलवे लाइन पर पुनः कार्य शुरू कर इसमें तेजी लाने के लिए त्वरित कार्यवाही किये जाने को लेकर चर्चा करते हुए इसके लिये कदम उठाने का आग्रह किया। सांसद डामोर ने सोमनाथ जबलपुर ट्रेन का मेघनगर में स्टॉपेज बंद हो गया था, उसको पुनः शुरू करवाने के लिए कार्यवाही करने के लिये चर्चा करते हुए इसे क्रियान्वित करने की बात कही,  वही मेघनगर में ओवर ब्रिज के निर्माण से आम जन को समस्या न हो तथा वहां पैदल यात्रियों के लिए अतिरिक्त फुट पुल की मांग भी प्रस्तुत की। अमरगढ़ स्टेशन पर ग्रामीणों की रास्ते संबंधित समस्या है, उसके निराकरण के लिए चर्चा महाप्रबधक से विस्तार से चर्चा की साथ ही कोटा नागदा ट्रेन को नागदा से बढ़ाकर दाहोद तक लाने की मांग की।  इसके सहित अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर भी महा प्रबधक से चर्चा कर जनहित मे इन समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिये अनुरोध किया । 

Jhabua News-  रेल महाप्रबंधक से सासद गुमानसिह ने चर्चा कर समस्याओ के निराकरण की माग की



और पड़े
शेयर

 हिंदू संगठनों की बड़ी जीत

झाबुआ। देशभर में कोविड-19 अनलॉक की प्रक्रिया के अंतर्गत हर संप्रदाय हर वर्ग को अपने धार्मिक त्योहारों को शासकीय कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए मनाने की अनुमति दी गई है। नगर पालिका झाबुआ द्वारा रावण दहन संबंधित एक विशेष बैठक में बिना नगर के गणमान्य नागरिकों, सामाजिक संगठनों, धार्मिक संगठनों या मीडिया को आमंत्रित किए रावण दहन ना करने का फैसला लिया गया था। युग युगांतर से रावण दहन की परंपरा हिंदू समाज में चली आ रही है एवं इसे खंडित न किए जाने को लेकर नगर के समस्त हिंदू संगठनों ने संयुक्त रूप से नगर पालिका सीएमओ को ज्ञापन के माध्यम से सांकेतिक रूप से रावण दहन करने की मांग रखी। 

         नगर के केवल सामाजिक एवं धार्मिक संगठनों के प्रमुख व्यक्तियों एवं प्रशासन के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में 51 फीट का रावण ना बनाते हुए सांकेतिक 11 फीट का रावण दहन करने की बात कही गई। नगर पालिका सीएमओ द्वारा समाज की आस्थाओं का सम्मान करते हुए एवं संगठनों की युक्ति संगत मांग को देखते हुए पूर्व में लिया गया रावण दहन न करने का निर्णय वापस लेते हुए सांकेतिक रूप से 11 फीट का रावण केवल प्रमुख प्रतिनिधियों की उपस्थिति में अलग स्थान विशेष पर दहन करने की घोषणा की गई । नगर पालिका सीएमओ द्वारा लिए गए त्वरित एवं जन हितेषी निर्णय से सर्व हिंदू समाज में हर्ष की लहर व्याप्त है एवं सभी संगठनों द्वारा माननीय सीएमओ के निर्णय का स्वागत किया है। इस अवसर पर हिंदू जागरण मंच अध्यक्ष शैलेश बिट्टू सिंगार, बजरंग सेना अध्यक्ष मयूर पवार, विश्व हिंदू परिषद अध्यक्ष हिमांशु त्रिवेदी, राष्ट्रीय हिंदू सेना अध्यक्ष वीरेंद्र राठौर समेत हनुमान टेकरी सेवा समिति, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एवं नगर के समस्त युवा उपस्थित थे।  

Jhabua News- दशहरा पर इस वर्ष 11 फीट का रावण दहन विभिन्न संगठनो के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में होगा


और पड़े
शेयर

भाजपा महिला मोर्चा ने कमलनाथ के पुतले पर जूते बरसाकर पुतला दहन किया, कमलनाथ हाय-हाय के जमकर लगे नारे

कांग्रेस की भद्दी मानसिकता ने नारी शक्ति का सदैव ही अपमान किया है -आरती भानपुरिया

झाबुआ। मप्र के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा एक सभा में मप्र शासन की महिला एवं बाल विकास मंत्री (केबिनेट मंत्री दर्जा) पर अशोभनीय टिप्पणी करने से संपूर्ण मप्र में राजनीति गरमा गई है। इस मामले में आक्रोषित होकर संपूर्ण प्रदेश  में भाजपा का गुस्सा फूट पड़ा है। पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा की गई अमर्यादित टिप्पणी के विरोध में भाजपा के प्रदेश स्तरीय आव्हान पर झाबुआ जिले में भी जिला भाजपा द्वारा जिला मुख्यालय पर कमलनाथ के इस कृत्य को लेकर मौन प्रदर्शन किया गया। बाद भाजपा महिला मोर्चा द्वारा कमलनाथ हाय-हाय के नारे लगाते हुए उनका पुतला भी फूंका। 

        जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री की इस अशोभनीय टिप्पणी के विरूद्ध संपूर्ण प्रदेश में भाजपा के उग्र विरोध के क्रम में जिला मुख्यालय झाबुआ पर बस स्टेंड स्थित गांधी चैराहा (फव्वारा चैक) पर जिला भाजपा द्वारा भी ‘‘कमलनाथ शर्म करो, कमलनाथ माफी मांगो’’ की अपने हाथों में तख्तीयां लेकर मौन विरोध जताया। यह मौन प्रदर्शन सुबह 10.30 से शुरू हुआ, जो दोपहर 12 बजे तक चला। इस दौरान सभी भाजपाईयों ने डेढ़ घंटे तक पूरी तरह से मौन रहकर कमलनाथ के इस अमर्यादिन बयान का विरोध किया। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक चुनावी सभा मे नवदुर्गा के दूसरे दिन जिस प्रकार से केबिनेट मंत्री और भाजपा प्रत्याशी इमरती देवी को आइटम कहकर नारी शक्ति का अपमान किया है,नवदुर्गा के पर्व के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जो महिला पर अभद्र टिप्पणी की है नारी शक्ति का अपमान किया है उसका परिणाम आपको मिलेगा और उसका जवाब आपको मध्य प्रदेश की जनता जरूर देगी,कमलनाथ के इस गलत शब्दो उपयोग जो भाजपा नेत्री का तो किया ही है साथ ही सम्पूर्ण नारी शक्ति का भी अपमान किया है|

    वही भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह नायक ने कहा कि नवदुर्गा पर्व के दौरान नारी शक्ति का अपमान करना निश्चित ही प्रदेश से कांग्रेस का विनाश होगा,वही भारतीय जनता महिला मोर्चा की जिला अध्यक्ष आरती भानपुरिया ने पुर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जो गलत शब्दो का उपयोग नारी शक्ति पर किया है उसका महिला मोर्चा पुरजोर विरोध करती है,महिला मोर्चे की जिला अध्यक्ष आरती भानपुरिया ने ये भी बताया कि पूर्व में भी कांग्रेस के टिकट वितरण को लेकर भी कमलनाथ ने नारी शक्ति के लिए कोटा या सजावट आदि शब्दो, साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ भी दिग्विजय सिंह की अभद्र टिप्पणी करना आदत बन चुका है, महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष आरती भानपुरिया ने बताया कि हमारे देश मे नारी को लक्ष्मी,दुर्गा और काली के रूप में पूजा जाता है,उस नारी को कांग्रेस की भद्दी मानसिकता एवं सोच ने सदैव ही अपमान किया है. भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर  ने बताया कि जिस कांग्रेस पार्टी की कमान खुद एक महिला संभाल रही हैं और जिस कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा महिलाओं हितेषी बनते हुए उनके अधिकारों की बात करती हैं उस कांग्रेस पार्टी के पूर्व केंद्रीय मंत्री और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चुनावी सभा मे इस तरह से नवदुर्गा पर्व के दौरान मंच से ऐसे शब्दों का उपयोग करना पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ का मानसिक दिवालियापन की और इशारा करता है,भाजपा सहित सभी मोर्चे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस अभद्र शब्दो का विरोध करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सार्वजनिक रूप से संपूर्ण नारी शक्ति से माफी मांगे। उक्त जानकारी भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र  नाहर द्वार दी गयी।



Jhabua News- नवदुर्गा पर्व के दौरान नारी शक्ति का अपमान करना निश्चित ही प्रदेश से कांग्रेस का विनाश होगा - जिलाध्यक्ष नायक
और पड़े
शेयर

10 दिनों से पानी को तरस रहे गोपाल कालोनी के रहवासी 

झाबुआ। स्थानीय गोपाल कॉलोनी अपने आप में एक बहुत अधिक धार्मिक एवं आध्यात्मिक महत्व का स्थान है यहां पर भगवान गोपाल प्रभु का मंदिर स्थित है जिसमें प्रतिवर्ष देशभर से हजारों श्रद्धालु दर्शन के लिए आते हैं मामला है गोपाल कॉलोनी के रहवासियों की धार्मिक भावनाएं आहत होने का गोपाल मंदिर के ठीक बाहर लगभग 50 मीटर की दूरी पर दशकों पुराना अति प्राचीन एवं पूजनीय पीपल का पेड़ था दशा माता की पूजा के दिन गोपाल कॉलोनी के साथ ही शहर के विभिन्न स्थानों से श्रद्धालु महिलाएं यहाँ पूजा करने आती थी। पीढ़ी दर पीढ़ी जिस वृक्ष की महिलाओ ने पूजा की थी एक दिन अचानक अज्ञात कारणों से इस वृक्ष को उखड दिया गया , किसी को कुछ समझ आता उसके पहले उक्त वृक्ष का नामो निशान यहाँ से मिटा दिया गया।  घटना को लेकर बुजुर्गों जिन्होंने अपना बचपन इस वृक्ष की छांव में गुजारा था जिन्होंने अपने माता, दादा- दादी को इस पेड़ की पूजा करते देखा था उनके दिल जैसे बैठ गए। बुजुर्गो को इस घटना से ज्यादा ठेस जब पहुंची जब गोपाल कालोनी के रहवासियों में से  किसी ने भी किसी भी प्रकार की आपत्ति दर्ज नहीं करवाई। मंदिर एवं भक्त मंडल से जुड़े भक्त दबे शब्दों में इसकी कड़ी निंदा कर रहे हैं एवं कालोनी के रहवासियों में इस घटना को लेकर काफी रोष व्याप्त है। पीपल के पेड़ का आध्यात्मिक महत्व किसी से छिपा नहीं है और इसका इस तरह से उखाड़ा जाना निश्चित तोर पर अपशगुन माना जा रहा है।  
          पीपल की जड उखड़ने के साथ साथ उखड गयी पाइप लाइन जो रहवासियों के लिए बड़ी परेशानी का सबब बनी हुई है।  उक्त पाइप लाइन यहाँ की बड़ी आबादी को जल प्रदाय करती थी आज लगभग 10 दिन बीत जाने के बाद भी गोपाल कालोनी के बड़े हिस्से में जल प्रदाय रुका हुआ है पीएचई और जनप्रतिनिधियों को चाहे यहां के श्रद्धालुओं की धार्मिक भावनाओं से कोई सरोकार ना हो,  देव तुल्य वृक्ष के कटने से श्रद्धालुओं के जेहन में नफरत के बीच तो पड़ ही गए है. विश्वसनीय सूत्रों से खबर ये भी है की इस पीपल के वृक्ष को उखाड़ फेकने के फरमान कांग्रेस की उस दिग्गज नेता का ही है जिनकी आँखों में ये पीपल का वृक्ष सालो से खटक रहा था। अब इस पेड़ का नामो निशान यहाँ से हटने के बाद यहाँ शानदार मल्टी बनाने की योजना है. पुरे घटनाक्रम से एक बात तो स्पष्ट है की वर्षो से गोपाल कालोनी जैसे पॉश इलाके में रहने और चुनावी सरगर्मी से भक्त मंडल से जुड़े भक्तो को अपना हितेषी बताना का इनका हत्कण्डा महज़ दिखावे से ज्यादा और कुछ नहीं है, अगर वास्तव में इनमे गोपाल कालोनी और भक्त मंडल से जुड़े लोगो के लिए थोड़ी भी सवेदना होती तो न तो आज ये पीपल वृक्ष इस तरह धराशायी होता और न ही पानी के लिए पिछले 10 दिनों से तरस रहे कालोनीवासियों का ये हाल. 

Jhabua News- मल्टी बनाने उखाड़ डाला दशकों पुराना पीपल का पेड़

मल्टी बनाने उखाड़ डाला दशकों पुराना पीपल का पेड़

मल्टी बनाने उखाड़ डाला दशकों पुराना पीपल का पेड़


और पड़े
शेयर

झाबुआ। समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक सोमवार को यहां कलेक्टेट सभा कक्ष में कलेक्टर श्री रोहित सिंह की अध्यक्षता में आयोजित हुई। श्री सिंह ने मुख्यमंत्री उत्कृष्टता पुरस्कार वर्ष 2019-20 के प्रस्ताव भेजने के लिए प्राप्त आवेदन पत्रों की समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वे अपने-अपने विभाग के उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों के प्रस्ताव प्रस्तुत करें। श्री सिंह ने इस बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों कर्मचारियों के लंबित पेंशन प्रकरणों की स्थिति की समीक्षा की और लंबित पेंशन प्रकरणों का तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जिले में स्थापित हैण्डपम्पों की जानकारी ली। बैठक में बताया गया कि जिले में 14 हजार हैण्डपम्प स्थापित हैं। 27 नए हैण्डपम्प स्थापित किए जावेगें। यह कार्य शीघ्र आरम्भ होगा। कलेक्टर श्री सिह ने कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी को निर्देश दिए हैं कि हर हैण्डपम्प में सोखपीट का प्रावधान रखा जावे। साथ ही हैण्डपम्प के आस-पास पौधे लगाए जाए। श्री सिंह ने निर्मल नीर योजना, कपिलधारा योजना के तहत बनाए गए कुओं के आस-पास और निर्माणाधिन आंगनवाड़ी केन्द्र भवनों के परिसर में 10-10 फलधार पौधे लगाने के निर्देश दिए।

     कलेक्टर ने सभी शासकीय भवनों में रूफवाटर हार्वेस्ंिटग सिस्टम की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। साथ ही निर्देश दिए हैं कि खेल परिसर, छात्रावास आश्रमों, विद्यालयों, महाविद्यालयों, शासकीय कार्यालयों, आईटीआई के भवन में रूफवाटर हार्वेस्ंिटग की व्यवस्था की जावे। दिव्यांगों की सुविधा के लिए शासकीय कार्यालयों तथा नए भवनों में रैम्प बनाने के निर्देश दिए। इस बैठक में आंगनवाड़ी केन्द्र के निर्माण कार्य की प्रगति की समीक्षा की गई और इन आंगनवाडी केन्द्र भवनों की प्रगति संतोषजनक नहीं होने पर कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, सहायक यंत्री को शौकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। इस संबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को ठेकेदारों की बैठक आयोजित कर कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिए। साथ ही जिला कार्यक्रम अधिकारी को स्वीकृत आंगनवाडी केन्द्रों का निरीक्षण नहीं करने पर नाराजगी जाहिर की और संबंधित सब इंजीनियर तथा परियोजना अधिकारी के साथ इन आंगनवाडी केन्द्रो का अवलोकन कर भवनों का कार्य समय सीमा में पूर्ण कराने की पहल करने के निर्देश दिए। 

      श्री सिंह ने शासकीय उचित मूल्य दुकानों के रंगाई-पुताई कार्य की प्रगति की समीक्षा की और अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व को निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्र की शासकीय उचित मूल्य दुकानों की रंगाई-पुताई का कार्य समय पर पूर्ण हो जाए सुनिश्चित कराए। साथ ही अपने-अपने क्षेत्र के अस्पतालों का निरीक्षण करें और वहां की व्यवस्थाओं में सुधार लाए। जिले में स्थापित सभी 743 ग्राम आयोग्य केन्द्र में उपलब्ध दवाईयों की सूची उपलब्ध कराए तथा आशा कार्यकर्ताओं को और अधिक सक्रीय किया जावे। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में अवैध रेत परिवहन की रोकथाम के लिए की गई कार्यवाही की प्रगति की समीक्षा की और विगत एक सप्ताह में इसमें कोई कार्यवाही नहीं करने पर तहसीलदारों, खनिज विभाग के अधिकारियों और पटवारियों पर नाराजगी जाहिर की तथा अनुविभागीय दण्डाधिकारियों को निर्देश दिए है कि कार्य में लापरवाही बरतनें पर संबंधित पटवारियों पर निलंबन की कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि झाबुआ अनुविभाग के राजस्व अधिकारियों का कार्य संतोषजनक नहीं पाए जाने पर उन्हें कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने अनुविभागीय अधिकारियों तथा डिप्टी कलेक्टरों को चरनोई भूमि का चिन्हांकन कर वायर फैसिंग कराने के निर्देश दिए। उन्होंने शहर में आवारा पशुओं को पकडने की कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए।

     कलेक्टर ने मुख्य नगरपालिका अधिकारी पेटलावद द्वारा सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों को अन्य अधिकारियों को ट्रांसफर करने के मामले को गम्भीरता से लिया और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद को निर्देश दिए हैं कि इस मामले की शीघ्र जांच करें तथा शिकायत सही पाई जाती है तो उनकी विभागीय जांच भी प्रस्तावित की जावे। श्री सिह ने अनुविभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने क्षेत्र में साॅची दुग्ध पार्लर के लिए दिव्यांगों के आवेदन प्राप्त होने पर दुकाने आवंटित की जावे। 

इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री एल.एन.गर्ग, डिप्टी कलेक्टर डाॅ. अभय सिंह खराडी, सुश्री ज्योति परते, सुश्री प्रीति संघवी सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

Jhabua News-  अवैध रेत परिवहन को रोकने के लिए प्रभावी कार्यवाही की जावे - कलेक्टर श्री सिंह


और पड़े
शेयर

 नशे की लत व्यक्ति के साथ-साथ परिवार और समाज के लिये घातक है

झाबुआ। मद्य निषेध सप्ताह कार्यक्रम में बुधवार को जिला चिकित्सालय झाबुआ में  नालसा (नशा पीड़ितों को विधिक सेवाऐं एवं नशा उन्मूलन) योजना-2015 अंतर्गत नशा मुक्ति एवं जागरूकता कार्यक्रम एवं विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष, जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री राजेश कुमार गुप्ता के मार्गदर्शन एवं अपर जिला न्यायाधीश, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री देवलिया के निर्देशन एवं उपस्थिति में आयोजित किया गया। उपस्थित नशा पीड़ितों एवं आम नागरिको को नशे के व्यसन से मुक्ति के लिये चिकित्सीय उपचार एवं मनोवैज्ञानिक परामर्श दिया गया। एवं सभी प्रकार के नशा तथा नशीली वस्तुयें जैसेे बीड़ी, तंबाकू, सिगरेट, शराब, गांजा, भांग, अफीम, चरस, हैरोईन, आदि को छोड़ने की सलाह एवं समझाईस दी गई तथा नशा मुक्ति केन्द्र में उपचार व परामर्श कराकर नशे की लत को छोड़ने की सभी से अपील की गई। 

       कार्यक्रम में अपर जिला न्यायाधीश श्री  देवलिया ने संबोधित करते हुए कहा कि नशा नाश की जड़ है। जिससे व्यक्ति का आर्थिक शारीरिक व सामाजिक नुकसान होता है एवं नशे की लत के कारण अनेक गंभीर बीमारियों जैसे- मुंह, गला, ध्वनि तंत्र, पेट गर्भाशय, गुर्दा फेफडे़ आदि का कैंसर, हद्य एवं रक्त संबंधी बीमारियों जैसे हार्ट अटैक, क्षय रोग (टी.बी.), पुरूषों में नपुंसकता, मोतियाबिन्द, गैंग्रीन, महिलाओं में प्रजनन क्षमता में कमी आना, बांझपन जैसी आदि समस्याऐं आती है। नशा व्यक्ति को शारीरिक रूप से नष्ट करता है एवं व्यक्ति की सामाजिक स्थिति भी खराब हो जाती है और वह व्यक्ति अपने परिवार व समाज पर बोझ बन जाता है और नशा से मुक्त होकर व्यक्ति अपने परिवार समाज व राष्ट्र के विकास में सहयोग करता है। मद्य निषेध सप्ताह अंतर्गत गांधी जयंती 2 अक्टूबर से नशा पीड़ितों को निःशुल्क विधिक सहायता एवं शासन की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं को लाभ दिलाये जाने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण झाबुआ के द्वारा अनेक कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है तथा सालसा एवं नालसा की योजनाओं का प्रचार-प्रसार किया गया। नशा मुक्ति के लिये समाज में जागरूकता आवश्यक हैै। कार्यक्रम में डाॅ. एस.एस.गर्ग जिला चिकित्सालय झाबुआ के द्वारा सचित्र फोल्डर के माध्यम से नशे से नुकसान एवं प्रभाव व उपचार की विस्तार की जानकारी दी गई। आयोजन में न्यायाधीशगण श्री राजकुमार चैहान एवं श्री रवि तंवर, श्रीमती कमला कटारा, पुष्पा सोलंकी एवं श्रीमती शर्मिला उपस्थित थे।

Jhabua News- नशा पीड़ितों के लिये उपचार, परामर्श एवं विधिक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन


और पड़े
शेयर

झाबुआ। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. ठाकुर ने जिले के समस्त औषधि विके्ताओं को निर्देश दिए हैं कि कोविड-19 के बचाव एवं रोकथाम के लिए बुखार, खासी, सर्दी जुकाम, सांस लेने मे तखलीफ जैसे लक्षण के व्यक्तियों, मरीजों की जानकारी संकलित करने के लिए एमपी आनलाइन की लिंक एडेस http://fda.mponline.gov.in तथा भारत सरकार की एप्लीकेशन सार्थक लाईट एप के माध्यम से ऐसे मरीजों की जानकारी की एंट्री की जाए। 

     उक्त लिंक एडेस एवं सार्थक लाईट एप्लीकेशन स्थापित कर वांछित जानकारी की प्रतिदिन प्रविष्ट करना सुनिश्चित करें। 

Jhabua News
और पड़े
शेयर

पटवारी संघ ने कलेक्टर को सौपा ज्ञापन

झाबुआ। राजस्व अनुविभाग झाबुआ के नवीन पटवारियों की व्यावहारिक परीक्षा में दिये गये अंकों के पुनर्मूल्यांकन  तथा तत्कालीन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व द्वारा दुर्भावनावश एवं दोषपूर्ण तरिके से अंक देकर अधिकतम पटवारियों को अनुत्तीर्ण करने तथा इस परीक्षा में अंकों का निर्धारण करने में पक्षपातपूर्ण एवं द्वेषपूर्ण तरीका अपनाये जाने के चलते तहसील झाबुआ, रामा, रानापुर के नवीन पटवारियों के भविष्य के साथ खिलवाड किया गया है । जिसे लेकर  सोमवार को मध्यप्रदेश पटवारी संघ के जिलाध्यक्ष एव प्रदेश उपाध्यक्ष अखिलेश मुलेवा के नेतृत्व में पटवारियों के प्रतिनिधि मंडल जिसमें तहसील अध्यक्ष नानुराम मेरावत, सुरेन्द्र चौहान, अर्जुन मेडा, नीलेश पाटीदार जगदीश चौहान, पूजा ओसारी , रिंकु ठाकुर, अनिता मुजाल्दा, रूचिका चौहान, हेमलता बामनिया, निलेश अखाडे, सहित झाबुआ रामा रानापुर के सभी नवीन पटवारी की उपस्थिति मे कलेक्टर प्रबल सिपाहा को  ज्ञापन सौपा गया। ज्ञापन में उल्लेखित किया गया है कि झाबुआ के राजस्व अनुभाग झाबुआ अन्तर्गत तहसील झाबुआ, रामा, रानापुर मे नवीन पटवारियो को व्यवहारिक परीक्षा मे दोषपूर्ण तरीके से अंक देकर ज्यादातर पटवारियो को अनुतीर्ण कर दिया है। इस परीक्षा मे अंको का निर्धारण करने मे पक्षपात एवं द्वेषपूर्ण तरीका अपनाया गया है जिसके बारे मे ज्ञापन मे कहा गया है कि जिला झाबुआ की तहसील पेटलावद, थांदला, मेघनगर के नवीन पटवारी व्यवहारिक परीक्षा मे सर्वोच्च अंको के साथ शत प्रतिशत परीक्षार्थी उतीर्ण हुए है जबकि अनुभाग झाबुआ की तहसील झाबुआ, रामा, रानापुर के नवीन परीक्षार्थी पटवारियो को व्यवहारिक परीक्षा मे न्यूनतम उतीर्णाक (अजा,अजजा के लिये 40 प्रतिशत अन्य पिछडा वर्ग, सामान्य वर्ग के लिये 50 प्रतिशत अंक) से भी कम अंक देकर ज्यादातर परीक्षार्थियो को अनुुतीर्ण किया गया जो कि भेदभाव पूर्ण प्रतीत होता है।
        ज्ञापन मे  उल्लेखित किया गया है कि व्यावहारिक परीक्षा मे अंको का विभाजन कार्य पद्वति एवं कार्य कुशलता को लेकर किया जाता है। जिसके पालन मे नवीन पटवारियो द्वारा अधिकारियो द्वारा दिये गये समस्त आदेशो का अक्षरशः पालन समय-समय पर किया गया यथा-प्रशिक्षण अवधि मे ही निर्वाचक नामावली का सुधार हो या विधानसभा व लोकसभा निर्वाचन तथा प्रदेष मे एक मात्र विधानसभा उपनिर्वाचन 2019 झाबुआ मे मशीन कमीशनिंग से लेकर निर्वाचन संबधित सौपे गये समस्त कार्य साम्रगी लाने जमाने मतदान दलो को साम्रगी वितरण एवं मतदान दलो को उनके मतदान केन्द्र तक पहुचाने हेतु वाहन प्रभारी का दायित्व तत्परता पूर्वक किया गया वही विभागीय दायित्वो का निर्वहन भी सम्पूर्ण निष्ठा के साथ किया गया राजस्व न्यायालयो के प्रकरणो मे प्रतिवेदन, सीमांकन, राजस्व अभियान के साथ विभिन्न पर्व त्यौहारो पर कानून व्यवस्था मे ड्यूटी  जैसे अति संवेदनशील कार्यो मे दिनरात कार्य किया गया। पटवारियो द्वारा  विभागीय कार्य जैसे फसल गिरदावरी,फसल कटाई प्रयोग, पी.एम. किसान सम्मान निधि आदि कार्य निर्धारित समय मे सफलतापूर्वक पूर्ण किये गये। व्यवहारिक परीक्षा के लिये भी निर्धारित समस्त कार्यो को लगन एवं निष्ठा से पूर्ण कर निर्धारित फाईल तैयार कर प्रस्तुत की गई है परन्तु झाबुआ अनुभाग के पटवारियो के इन कार्यो की अनदेखी कर द्वेशपूर्ण तरीके से अंको का विभाजन किया गया है। जो कि नवीन पटवारियो का भविष्य खराब करने की कोशिश प्रतीत होती है।
         झाबुआ अनुभाग के पदस्थ पटवारियो मे से कुछ पटवारियो ने आ्नलाईन परीक्षा मे मध्य प्रदेश की प्रावीण्य सूची मे स्थान अर्जित किया है इतने योग्य परीक्षार्थियो को व्यवहारिक परीक्षा मे न्यूनतम उर्तीणांक से भी कम अंक देकर अनुतीर्ण किया गया है जो कि अपने आप मे किसी भी स्तर पर व्यवहारिक प्रतीत नही होता है। प्रस्तुत ज्ञापन मे कलेक्टर से  माग की गई है कि  उक्त प्रकरण मे की गई द्वेषपूर्ण कार्यवाही को निरस्त करते हुए किसी वरिष्ठ अधिकारी द्वारा पुनर्जांच करवाकर परीक्षार्थियो के अंक निर्धारण कराया जावे ताकि अनुभाग झाबुआ के सभी नवीन पटवारियो के भविष्य के साथ न्याय हो सके। कलेक्टर श्री सिपाहा ने ज्ञापन में कार्रवाही करने का आश्वासन दिया। 

Jhabua News- तत्कालीन एसडीओ द्वारा दूर्भावना से नवीन पटवारियो की व्यावहारिक परीक्षा मे अनुत्तीर्ण करने पर पुनर्जाच की माग

तत्कालीन एसडीओ द्वारा दूर्भावना से नवीन पटवारियो की व्यावहारिक परीक्षा मे अनुत्तीर्ण करने पर पुनर्जाच की माग
और पड़े
शेयर

देश के नागरिकों की सुरक्षा करना ही सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं का प्रथम कर्तव्य होना चाहिए 

झाबुआ। डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट गुलाबसिंह के मार्गदर्शन में सिविल डिफेंस आपदा प्रबंधन की बैठक समीपस्थ ग्राम मिंडल स्थित जिला होमगार्ड कार्यालय पर आयोजित हुई। जिसमें शासन के नियमानुसार सोशल डिस्टेनसिंग का पूर्णतः पालन किया गया। साथ ही सभी को सेनेटाईजर कर आने की अनुमति दी गई। बैठक में जिला होमगार्ड विभाग के कमाडेंट गुलाबसिंह ने सभी कार्यकर्ताओ को सिविल डिफेंस के नियमों की जानकारी दी तथा आगामी समय में कार्यकर्ताओं को जिले में किस तरह से कार्य करना है एवं नागरिकों की सुरक्षा किस तरह से करना है, इसके बारे में बताया। डिस्ट्रीक्ट कमांडेट ने कार्यकर्ताओं द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों की भी जानकारी ली। नागरिकों की सुरक्षा के लिए हमेशा तैयार रहने को कहा। साथ ही कहा कि सिविल डिफेंस का यहीं कार्य है।
कोरोना महामारी में किए गए जागरूकता कार्यों की प्रशंसा
होमगार्ड के प्लाटून कमांडेट भारत ने कोरोना महामारी से रोकथाम हेत जिले में लगे ढ़ाई महीने के लाॅकडाउन के बीच कार्यकर्ताओं द्वारा अपने-अपने क्षे़त्र में किए गए जागरूकता के कार्यो की प्रशंसा करते हुए इस हेतु सभी को बधाई दी एवं भविष्य में भी इसी तरह कार्य करते रहने के लिए प्रेरित किया। कार्यकर्ताओं को अपने दायित्व का बोध करवाया कि देश के नागरिको की सुरक्षा करना ही सिविल डिफेंस का प्रथम कर्तव्य है, जिसे आप सभी को हर घड़ी पूरा करना है। 
नागरिकों की सुरक्षा में रहेंगे हमेशा तत्पर 
सिविल डिफेंस प्रभारी पं. द्विजेन्द्र व्यास ने सिविल डिफेंस सदस्यों को एक-दूसरे से जुड़कर कार्य करने के लिए प्रेरित किया एवं डिफेंस के कार्यकर्ता नागरिकों की सुरक्षा के कार्यों में हमेशा रत रहने के लिए डिस्ट्रीक्ट कमांडेट को आष्वस्त किया। इस अवसर पर जिलेभर से आए सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं में हिम्मतसिंह राठौर, सुमित्रा राठौर, गंगा पाल, भारती राठौर, भलिया राठौर, शारदा चौहान, अनिल पाल, भारत राठौर, ईष्वर भूरा, अनिल पाल ग्राम सुतरेटी, प्रेम राठौर, मोनू देवल, कालूसिंह सिंगाड़, खुमानसिंह राठौर,  राजू डामोर, दलसिंह परमार आदि उपस्थित थे। बैठक में सभी कार्यकर्ता एक जैसी गणवेश में सम्मिलित हुए।

Jhabua News- जिला होमगार्ड कार्यालय पर सिविल डिफेंस आपदा प्रबंधन की बैठक संपन्न

और पड़े
शेयर

झाबुआ। जिले में बालिका शिक्षा के क्षेत्र में काम कर रही संस्था एजुकेट गर्ल्स कोविड-19 महामारी में ग्रामीण क्षेत्रों में अपने सेवा कार्यों को  निरंतर जारी रखे हुए  हैं। सहायक कलेक्टर आईएएस आकाश सिंह ने राहत सामग्री से भरे वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर डिप्टी कलेक्टर एलएन गर्ग, डिप्टी कलेक्टर ज्योति पर्ते भी खास तौर पर मौजूद थे। कलेक्टोरेट से रवाना किए गए वाहन  जिले के 4 ब्लॉक में जाकर करीब 4300 परिवारों को मदद पहुंचाएंगें। राहत सामग्री के पैकेट में संस्था की ओर से आटा, दाल, तेल,मसाला,साबुन आदि दिया जा रहा है।  संस्था ने 20 ऐसे गांवों को चिन्हित किया जहां पलायन से लौटने वाले मजूदरों की संख्या ज्याद है साथ ही ऐसे गांव जो दूरस्थ हैं। इसके पहले भी संस्था की ओर से 18 गांव में 2700 से ज्यादा राहत सामग्री पैकेट का वितरण मई माह में किया गया था। 
     वाहनों को रवाना करने के बाद आईएएस आकाश सिंह ने कहा कि कोरोना संकटकाल में इसी तरह मदद करने वालों का आगे आना चाहिए, ताकि लोगों के साथ-साथ प्रशासन को भी मदद मिल सकें । संस्था के जिला प्रबंधक कृष्णा कलानी ने कहा कि संस्था कोविड 19 के कारण परेशानी में फंसे लोगों को मदद पहुंचाने की कोशिश कर रही है ।  कलानी ने बताया कि जिला कलेक्टर प्रबल सिपाहा के मार्गदर्शन में गांवों मे कोविड-19 के सुरक्षा उपायों के साथ ही इस सामग्री का वितरण किया जाएगा । संस्था कोविड-19 की जागरूकता को लेकर भी संस्था ग्रामीण क्षेत्र में कार्य कर रही है । संस्था मूल रूप से बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने का काम करती है ,जिले में सरकार की मंशानुसार डिजिलेप कार्यक्रम ,मनरेगा,गरीब कल्याण योजना आदि की पहुंच ग्रामीणों तक बनाने शासन-प्रशासन का सहयोग ग्रामस्तर पर कर रही है । राहत सामग्री वितरण वाहनों को रवाना करते वक्त साथ संस्था के धीरज खेड़े, हिमांशु राठौर,मनीष मकवाना,यश पंवार,सुमीत राठौर आदि मौजूद थे ।

Jhabua News- 4300 परिवारों तक राहत सामग्री पहुंचाएंगा एजुकेट गर्ल्स, सहायक कलेक्टर ने हरी झंडी दिखाकर वाहन किए रवाना
और पड़े
शेयर

झाबुआ। शहर में इन दिनों गणमान्य लोगों वरिष्ठ नागरिकों ठेला गाड़ी व्यापारियों एवं अन्य संपन्न प्रतिष्ठानों को सील किया जा रहा है और बिना किसी क्रिमिनल बैकग्राउंड के लोगों पर धड़ल्ले से अफेयर की जा रही है यहां तक कि रजिस्टर्ड मेडिकल प्रैक्टिशनर यानी कि डॉक्टर के घरों में भी छापे मार कर उन पर भी कार्रवाई की जा रही है. वहीं दूसरी तरफ अपनी दबंगई गुंडागर्दी और प्राप्त राजनीतिक संरक्षण के चलते खुलेआम बीच सड़क पर अवैध रूप से बिना लाइसेंस के मांस मटन की दुकानें संचालित कर रहे लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही थी. लगभग 15 से 20 साल से इनके आसपास रहने वाले लोग इनके द्वारा फैलाए जा रहे गन्दगी और उनकी दादागिरी के चलते त्रस्त हो चुके थे. उसी क्षेत्र में रहने वाले एक युवक द्वारा मीडिया के सामने यह बात बताई गई जिसके परिणाम स्वरुप पुलिस द्वारा कार्रवाई को अंजाम दिया गया. उक्त क्षेत्र में  से बिना लाइसेंस के गैरकानूनी तरीके से काम कर रहे मांस व्यापारियों को धर दबोचा गया इनके पास से 25-25 किलो के चार भाग पाड़े का मांस बरामद किया गया.
     इनके खिलाफ धारा 8/10 यानी मध्यप्रदेश त्रशक पशु संरक्षण अधिनियम के तहत कार्रवाई की जा रही है. उक्त युवको पर मुकदमा चलाया जा रहा है जिसमें 3 साल की जेल का प्रावधान है पुलिस द्वारा इस बात का भी आश्वासन है कि यदि इन युवको द्वारा दोबारा ऐसा करते पाए जाते हैं तो इनके विरुद्ध इससे भी अधिक संगीन धाराओं में कार्रवाई की जाएगी और साथ ही समाज हित में हिम्मत दिखाकर आगे आने वाले युवा की सुरक्षा की पूरी गारंटी भी प्रशासन की रहेगी।

Jhabua News- अवैध रूप से मांस विक्रय कर रहे दो व्यापारियों पर कार्रवाई
और पड़े
शेयर

पिछले दिनों भोपाल में मुख्यिमंत्री से मुलाकात के दौरान पूर्व विधायक ने पुरजोर तरीके से उठाई थी प्रवासी मजदूरों की समस्या

झाबुआ। मजदूरों के हित संरक्षण व आपदाओं के समय त्वरित सहायता के लिए अब मप्र में प्रवासी मजदूर आयोग का गठन किया जाएगा। खास बात ये हैं कि इसके लिए पेटलावद की पूर्व विधायक निर्मला भूरिया ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान को सुझाव दिया था। दरअसल रोजगार की तलाश में हर साल प्रदेश के अलग’अलग जिलों से लाखों मजदूर देश के विभिन्न राज्यों का रुख करते हैं। उनकी समस्याओं के साथ प्राक्रतिक आपदाओं के दौरान उन्हें त्वरित मदद मुहैया कराने के लिए अब तक कोई व्यवस्था नहीं थी। पिछले दिनों जब पेटलावद की पूर्व विधायक निर्मला भूरिया ने भोपाल में मुख्यमंत्री से मुलाकात की तो उन्होंने यह मुददा पुरजोर तरीके से उठाया। उन्होंने कहा जिस तरह से उत्तरप्रदेश में प्रवासी मजदूर आयोगबनाया गया है उसी तरह मप्र में भी इसकी आवश्यकता है। 
Jhabua News- पेटलावद की पूर्व विधायक निर्मला भूरिया के सुझाव पर अब प्रदेश में बनेगा प्रवासी मजदूर आयोग    सुश्री भूरिया के सुझाव को अमल में लाते हुए मुख्यमंत्री ने अलग से प्रवासी मजदूर आयोग का गठन करने की घोषणा कर दी। इसके तहत जिलास्तर पर अब प्रत्येक मजदूर का पंजीयन किया जाएगा। यदि कोई मजदूर बाहरी राज्य से जिले में आता है तो उसका भी पंजीयन होगा। जिससे आपतकाल के समय उन्हें त्वरित सहायता उपलब्ध कराई जा सकेगी। मुख्यमंत्री द्वारा प्रवासी मजदूर आयोग के गठन की घोषणा पर पूर्व विधायक निर्मला भूरिया के साथ भाजपा नेताओं व मजदूरों ने आभार व्यक्त किया है।

तेलंगाना से मजूदरों को लाने के लिए भेजना पडा था वाहन
कोरोना संक्रमण के बीच संपूर्ण लॉक डाउन के दौरान झाबुआ जिले के 10 मजदूर तेलंगाना में फंस गए थे। उन्हें लाने के लिए झाबुआ से उनके परिजन ई पास बनवाकर और एक वाहन लेकर तेलंगाना गए। इसमें उनकी काफी मशक्कत हो गई थी। अब प्रवासी मजदूर आयोग बन जाने के बाद इस तरह की दिक्कत नहीं रहेगी। शासनस्तर से सीधे संबंधित राज्य और वहां के जिले के कलेक्टर से चर्चा कर स्थानीय मजदूरों को सहायता मुहैया कराई जा सकेगी।
और पड़े
शेयर

झाबुआ। मनरेगा के अंतर्गत जिले में  गुरूवार को  3 हजार 182 हितग्राही मुलक कार्य  तथा 1 हजार 110 सार्वजनिक कार्य को किय गये  हैं। जिसमें हितग्राही मुलक कार्यों में 18 हजार 805 तथा सार्वजनिक कार्यों में 45 हजार 626 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। इस प्रकार जिले में कुल 64 हजार 431 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया की झाबुआ जनपद पंचायत क्षेत्र में 68 ग्राम पंचायतों में 881 हितग्राही मुलक कार्यों में 2 हजार 787, तथा 253 सार्वजनिक कार्यों में 5 हजार 678 श्रमिकों, मेघनगर जनपद पंचायत क्षेत्र की 61 ग्राम पंचायत में 351 हितग्राही मुलक कार्यों में 2 हजार 402 श्रमिक तथा 128 सार्वजनिक कार्यों में 8 हजार 581 श्रमिक, पेटलावद जनपद पंचायत क्षेत्र की 77 ग्राम पंचायतों में 322 हितग्राही मुलक कार्यों में 8 हजार 50 श्रमिक तथा 255 सार्वजनिक कार्यों में 8 हजार 147 श्रमिक, रामा जनपद पंचायत क्षेत्र की 54 ग्राम पंचायतों में 464 हितग्राही मुलका कार्यों में 2 हजार 23 श्रमिक तथा 230 सार्वजनिक कार्यों में  8 हजार 644 श्रमिक रानापुर जनपद पंचायत की 45 ग्राम पंचायतों में 571 हितग्राही मुलक कार्यों में 2 हजार 296 श्रमिक तथा 104 सार्वजनिक कार्यों में 3 हजार 844 श्रमिक और थांदला जनपद पंचायत की 66 ग्राम पंचायतों में 593 हितग्राही मुलक कार्यों में 1 हजार 247 श्रमिक तथा 140 सार्वजनिक कार्यो में 10 हजार 732 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। 
इस योजना के तहत झाबुआ जनपद पंचायत क्षेत्र में 328, मेघनगर जनपद पंचायत क्षेत्र में 146, पेटलावद जनपद पंचायत क्षेत्र में 469, रामा पनपद पंचायत क्षेत्र में 323, राणापुर जनपद पंचायत क्षेत्र में 171 और थांदला जनपद पंचायत क्षेत्र में 135 जल संरक्षण एवं सर्वधन के कार्य किये जा रहे हैं। 

Jhabua Samachar- मनरेगा के अंतर्गत 64 हजार 431 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध

Jhabua News- मनरेगा के अंतर्गत 64 हजार 431 श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध
और पड़े
शेयर

ट्रेंडिंग

[random][carousel1 autoplay]

प्रायोजित लिंक्स

आपकी राय / आपके विचार .....

निष्पक्ष, और निडर पत्रकारिता समाज के उत्थान के लिए बहुत जरुरी है , उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ समाचार पत्र भी निरंतर इस कर्त्तव्य पथ पर चलते हुए समाज को एक नई दिशा दिखायेगा , संपादक और पूरी टीम बधाई की पात्र है !- अंतर सिंह आर्य , पूर्व प्रभारी मंत्री

आशा न्यूज़ समाचार पत्र के शुरुवात पर हार्दिक बधाई , शुभकामनाये !!!!- निर्मला भूरिया , पुर्व विधायक

जिले में समाचार पत्रो की भरमार है , सच को जनता के सामने लाना और समाज के विकास में योगदान समाचार पत्रो का प्रथम ध्येय होना चाहिए ... उम्मीद करते है की आशा न्यूज़ सच की कसौटी और समाज के उत्थान में एक अहम कड़ी बनकर उभरेगा - कांतिलाल भूरिया , पुर्व सांसद

आशा न्यूज़ से में फेसबुक के माध्यम से लम्बे समय से जुड़ा हुआ हूँ , प्रकाशित खबरे निश्चित ही सच की कसौटी ओर आमजन के विकास के बीच एक अहम कड़ी है , आशा न्यूज़ की पूरी टीम बधाई की पात्र है .- शांतिलाल बिलवाल , पुर्व विधायक झाबुआ

आशा न्यूज़ चैनल की शुरुवात पर बधाई , कुछ समय पूर्व प्रकाशित एक अंक पड़ा था तीखे तेवर , निडर पत्रकारिता इस न्यूज़ चैनल की प्रथम प्राथमिकता है जो प्रकाशित उस अंक में मुझे प्रतीत हुआ , नई शुरुवात के लिए बधाई और शुभकामनाये.- कलावती भूरिया , पुर्व जिला पंचायत अध्यक्ष

मुझे झाबुआ आये कुछ ही समय हुआ है , अभी पिछले सप्ताह ही एक शासकीय स्कूल में भारी अनियमितता की जानकारी मुझे आशा न्यूज़ द्वारा मिली थी तब सम्बंधित अधिकारी को निर्देशित कर पुरे मामले को संज्ञान में लेने का निर्देश दिया गया था समाचार पत्रो का कर्त्तव्य आशा न्यूज़ द्वारा भली भाति निर्वहन किया जा रहा है निश्चित है की भविष्य में यह आशा न्यूज़ जिले के लिए अहम कड़ी बनकर उभरेगा !!- डॉ अरुणा गुप्ता , पूर्व कलेक्टर झाबुआ

Congratulations on the beginning of Asha Newspaper .... Sharp frown, fearless Journalism first Priority of the Newspaper . The Entire Team Deserves Congratulations... & heartly Best Wishes- कृष्णा वेणी देसावतु , पूर्व एसपी झाबुआ

महज़ ३ वर्ष के अल्प समय में आशा न्यूज़ समूचे प्रदेश का उभरता और अग्रणी समाचार पत्र के रूप में आम जन के सामने है , मुद्दा चाहे सामाजिक ,राजनैतिक , प्रशासनिक कुछ भी हो, हर एक खबर का पूरा कवरेज और सच को सामने लाने की अतुल्य क्षमता निश्चित ही आगामी दिनों में इस आशा न्यूज़ के लिए एक वरदान साबित होगी, संपादक और पूरी टीम को हृदय से आभार और शुभकामनाएँ !!- संजीव दुबे , निदेशक एसडी एकेडमी झाबुआ

Asha News

{picture#YOUR_PROFILE_PICTURE_URL} YOUR_PROFILE_DESCRIPTION

संपर्क फॉर्म

आपका नाम

ईमेल *

सन्देश *

Powered by Blogger.